ताज़ा खबर
 

ये लोग भूल से भी न खाएं ज्यादा अजवाइन, सेहत पर हो सकता है गलत असर – जानिये कितना खाना चाहिए

Carom Seeds Health Disadvantage: जो लोग लिवर संबंधी किसी बीमारी से जूझ रहे हों, उन्हें भी अजवाइन के अधिक इस्तेमाल से बचना चाहिए

अजवाइन का सेवन गर्भवती महिलाओं के लिए नुकसानदायक हो सकता है

Ajwain Side Effects: पूड़ी-पराठा या फिर तड़का लगाने में अजवाइन का इस्तेमाल बेहद आम है। चुटकी भर उपयोग करने से खाने का स्वाद निखर जाता है। भारतीय मसाले न केवल खाने का स्वाद बढ़ाते हैं बल्कि स्वास्थ्य को बेहतर करने में भी महत्वपूर्ण योगदान निभाते हैं, अजवाइन भी इन्हीं में से एक है। अक्सर आपने देखा होगा कि घर में जब किसी को पेट में दर्द, अपच या एसिडिटी की परेशानी होती है तो बड़े-बुजुर्ग उन्हें अजवाइन खाने की सलाह देते हैं।

सिर्फ पेट के लिए ही नहीं बल्कि पूरे शरीर के लिए अजवाइन का सेवन फायदेमंद है। उच्च रक्तचाप, रक्त शर्करा और कोलेस्ट्रॉल को काबू करने में इसका सेवन फायदेमंद होता है। इसके अलावा, अजवाइन के इस्तेमाल से इम्युनिटी भी बेहतर होती है। लेकिन सभी के लिए अजवाइन ही हो, ये जरूरी नहीं है। ऐसे में आइए जानते हैं कि किन्हें इसके सेवन से बचना चाहिए।

इन तत्वों की होती है मौजूदगी: प्रोटीन, फैट, फाइबर, फॉस्फोरस, कॉपर, मैंगनीज, आयरन, कोबाल्ट, आयोडीन, कार्वाक्रोल होते हैं। सीमित मात्रा में इनका सेवन लाभकारी साबित होता है। साथ ही, अजवाइन में थाइमोल, पेरा-सीमेन, एल्फा, बीटा-पीनिन और गामा टेरपीन होते हैं।

किन्हें कम करना चाहिए सेवन: अजवाइन का इस्तेमाल ज्यादा करने से सेहत पर गलत असर होता है, ऐसे में कुछ लोगों को इससे दूरी बना लेनी चाहिए। इस वजह से पाचन संबंधी दिक्कतें हो सकती हैं, इसके अलावा चक्कर, उल्टी, लिवर में खराबी और सीने में जलन की परेशानी हो सकती है। साथ ही, गर्भवती महिलाओं को भी इसके अत्यधिक सेवन से बचना चाहिए। ऐसे में लोगों को एक चम्मच से अधिक अजवाइन का सेवन नहीं करना चाहिए।

जिन्हें होती है कब्ज की समस्या: हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार जो लोग कब्ज की समस्या से परेशान हैं, उन्हें सीमित मात्रा में ही अजवाइन खाना चाहिए। बताया जाता है कि अजवाइन का पानी ज्यादा पीने से कब्ज और एसिडिटी जैसी दिक्कत हो सकती है।

गर्भवती महिलाएं परहेज करें: आयुर्वेद में इस बात का जिक्र मिलता है कि अजवाइन का सेवन गर्भवती महिलाओं के लिए नुकसानदायक हो सकता है। ऐसे में इसके इस्तेमाल से परहेज करना चाहिए। माना जाता है कि अजवाइन गर्म तासीर का होता है जो शरीर की गर्मी को बढ़ा सकता है। इससे गर्भावस्था काल में जटिलताएं हो सकती हैं।

Next Stories
1 50 की उम्र के बाद डाइट में जरूर शामिल करें ये 7 फूड्स, कम होगा शरीर में पोषक तत्वों की कमी का खतरा
2 कई हेल्थ प्रॉब्लम्स का निदान है बादाम, एक गिलास दूध में 2 बादाम डालकर पीने के ये हैं फायदे
3 खाली पेट इन चीजों को खाने से शुगर लेवल रहेगा कंट्रोल, डायबिटीज के मरीज जरूर करें ट्राय
ये पढ़ा क्या?
X