ताज़ा खबर
 

सीने में जलन और एसिडिटी से छुटकारा दिलाने में मददगार साबित होते हैं ये नैचुरल उपाय, जानिये

Acidity Natural Remedies: स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि रात को जल्दी भोजन कर लेने से एसिडिटी या हार्ट बर्न की परेशानी नहीं होती है

जो लोग खाने के साथ कच्चा प्याज खाते हैं उनमें एसिड रिफ्लक्स और सीने में जलन की शिकायत दूसरों के मुताबिक अधिक हो जाती है

Acidity Natural Remedies: आज की हेक्टिक लाइफस्टाइल में एसिडिटी की दिक्कत कई लोगों को काफी परेशान कर देती है। ये समस्या तब उत्पन्न होती है जब पेट में मौजूद एसिड दोबारा ईसोफेगस में आ जाता है। इसके कारण सीने में जलन, छाती और गले में दर्द या जलन महसूस होता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञ मानते हैं कि खानपान में लापरवाही, ज्यादा मसालेदार भोजन करने से या समय पर खाना नहीं खाने के कारण लोगों को एसिडिटी की परेशानी हो जाती है। इसके अलावा, लगातार एक ही पोजिशन में बैठने या फिर शारीरिक असक्रियता भी इसके लिए जिम्मेदार है। आइए जानते हैं निजात पाने के लिए किन उपायों को अपनाने से लाभ होगा –

जरूरत से ज्यादा नहीं खाएं: जो लोग एसिड रिफ्लक्स की परेशानी से जूझते हैं उनका इसोफेगस के मसल्स कमजोर होते हैं, ऐसे में ज्यादा खा लेने से इस मसल पर ज्यादा दबाव पड़ता है। इस कारण पेट में पाए जाने वाले एसिडिक पदार्थ फूड पाइप में आ जाते हैं। ऐसे में लोगों को हल्का व सीमित मात्रा में भोजन करना चाहिए।

वजन पर रखें संतुलन: एसिडिटी की परेशानी को कम करने के लिए जरूरी है कि लोगों का वजन कंट्रोल में रहे। विशेषज्ञों का मानना है कि मोटापा के कारण लोगों में एक प्रकार का हर्निया होने का खतरा रहता है। कई अध्ययनों में ये पाया गया है कि मोटे लोग या गर्भवती महिलाओं में हर्निया से एसिडिटी और हार्टबर्न की समस्या हो जाती है।

शराब का कम करें सेवन: ज्यादा शराब पीने से एसिडिटी और सीने में जलन की परेशानी बढ़ जाती है। साथ ही, इससे शरीर में डिहाइड्रेशन भी हो जाती है। साथ ही, कैफीनयुक्त अन्य पदार्थों का सेवन भी कम करें। चाय-कॉफी पीने से बचें।

कच्चा प्याज खाने से बचें: एक स्टडी के अनुसार जो लोग खाने के साथ कच्चा प्याज खाते हैं उनमें एसिड रिफ्लक्स और सीने में जलन की शिकायत दूसरों के मुताबिक अधिक हो जाती है। माना जाता है कि प्याज में फर्मेंटेबल फाइबर होते हैं जो पेट में जाकर गैस बनाते हैं।

रात को सोने से 3 घंटे पहले करें डिनर: स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि रात को जल्दी भोजन कर लेने से एसिडिटी या हार्ट बर्न की परेशानी नहीं होती है। ऐसे में लोगों को सोने से करीब 3 घंटे पहले खाना खा लेना चाहिए। एक्सपर्ट्स के अनुसार डिनर के लिए शाम 7 बजे का समय सबसे उपयुक्त है।

Next Stories
1 Diabetes के मरीजों को कैसे प्रभावित कर रहा है कोरोना, जानें क्या करें और क्या नहीं
2 यूरिक एसिड के बढ़ते स्तर को कंट्रोल करेगा अजवाइन, जानें डाइट में कैसे करें शामिल
3 महिलाओं में बेहद आम हो चुकी हैं ये 5 बीमारियां, इस तरह रहें सावधान
ये पढ़ा क्या?
X