ताज़ा खबर
 

हाइपर थायराइड से पाना चाहते हैं छुटकारा तो रूटीन में शामिल करें ये एक्सरसाइज, जानें- और क्या हैं फायदे

Exercise for Thyroid Patients: हाइपर थायरॉइडिज्म से बचने के लिए दवाइयों के साथ एक्सरसाइज करना भी बहुत जरूरी है। व्यायाम करने से ग्लैंड शांत होता है और शरीर में हार्मोन लेवल भी नियंत्रण में रहते हैं।

ये एक्सरसाइज करने से हाइपर शायरॉइड के मरीजों को मिलेगा आराम

Exercise for Thyroid Patients: थायरॉइड एक गंभीर बीमारी है जो शरीर को कई तरह से प्रभावित करती है। ‘थायरॉइड’ गले में एक विशेष ग्लैंड को कहा जाता है जो थायरोक्सिन नामक एक हार्मोन का उत्पादन करती है। ये हार्मोन शरीर के क्रिया-कलापों के लिए बहुत जरूरी है। अगर किसी व्यक्ति में थायरॉइड ग्लैंड ज्यादा मात्रा में ये हार्मोन पैदा करने लगता है तो उस स्थिति को हाइपर थायरॉइडिज्म कहा जाता है। इस बीमारी में थायरॉइड ग्लैंड के ओवर एक्टिव होने से शरीर का मेटाबॉलिज्म बहुत कम हो जाता है। ऐसे में कई एक्सरसाइज करने से आप जल्दी ठीक तो होते ही हैं, साथ ही इससे कोई नुकसान भी नहीं होता। ‘ओनली माय हेल्थ’ की इस रिपोर्ट से जानते हैं इस बीमारी में कौन-से एक्सरसाइज करने से मिलेगी मदद-

स्टेप एयरोबिक्स: हाइपर थायरॉइडिज्म के मरीजों के लिए ये व्यायाम बेहद लाभकारी साबित हो सकता है। हाइपर थायरॉइडिज्म के बहुत कम स्तर पर भी स्टेप एयरोबिक्स किया जा सकता है। इसे करने के लिए पहले सीधे खड़े हो जाएं और धीरे-धीरे अपने दाहिने पैर को उठाएं फिर बाएं पैर को उठाएं। इस एक्सरसाइज को करते वक्त अपने पैरों को ज्यादा ऊपर लाने की कोशिश करें। आप इस एक्सरसाइज को 10 से 15 मिनट्स तक कर सकते हैं।

पुश अप्स: इस बीमारी के मरीजों के लिए पुश अप्स करना फायदेमंद हो सकता है। हाइपर थायरॉइड के मरीजों का वजन लगातार कम होते जाता है। ऐसे में पुश अप्स आपके वजन को बढ़ाने में मदद कर सकता है। इस एक्सरसाइज को करने के लिए अपने हाथ-पैर के मदद से जमीन पर लेट जाएं। पूरे शरीर को सीधा रखें और इस बात का ध्यान रखें कि आपका शरीर जमीन को टच न करे। धीरे-धीरे हाथों की मदद से अपने छाती को जमीन के करीब लाएं और वापस ले जाएं। शुरुआत में इस एक्सरसाइज को 10 बार करें।

चेयर पोस्चर: योग के भी कई प्रकार को हाइपर थायरॉइड के मरीज ट्राय कर सकते हैं। इनमें से एक है चेयर पोस्चर, इसे करने के लिए सबसे पहले सीधे खड़ हो जाएं। उसके बाद अपने दोनों हाथों को सिर के पास ऊपर उठाएं, ध्यान रखें कि आपकी दोनों हथेलियां एक-दूसरे से जुड़ी होनी चाहिए। उसके बाद सांस को अंदर खींचते हुए नीचे झुककर घुटनों को छूने की कोशिश करें। फिर धीरे-धीरे सांस को छोड़ते हुए अपने नॉर्मल पोजिशन में आ जाएं। इस एक्सरसाइज को 10 से 12 बार दोहराएं।

Next Stories
1 Health Horoscope Today, 21 March 2020: कर्क राशि तनाव से रखें खुद को दूर, स्वास्थ्य पर पड़ सकता है प्रभाव
2 अस्थमा को कंट्रोल करने में बेहद मददगार है मुलेठी, जानें- इस्तेमाल का तरीका और अन्य लाभ
3 Coronavirus: जानिए कोरोना वायरस से बचना है तो किन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा
ये पढ़ा क्या ?
X