ताज़ा खबर
 

High BP को कम करने में मददगार हैं ये आयुर्वेदिक उपाय, जानिये

Tips for BP Patients: आयुर्वेद के मुताबिक हाई ब्लड प्रेशर दो तरह के दोषों पित्त और वात की वजह से होता है। ऐसे में आइए जानते हैं किन आयुर्वेदिक उपायों से बीपी कंट्रोल करने में मिलेगी मदद-

High Blood Pressure, high bp symptoms, high bp treatment, high blood pressure reading, high bp ayurvedic upayइलायची में एंटी-ऑक्सीडेंट्स व डाय-यूरेटिक प्रॉपर्टीज पाए जाते हैं जो मरीजों के बीपी का स्तर नॉर्मल बनाए रखने में मदद करते हैं

High Blood Pressure Remedy: भारत की करीब 40 प्रतिशत शहरी आबादी हाइपरटेंशन की समस्या से ग्रस्त हैं। ऐसे में कहा जा सकता है कि ब्लड प्रेशर की समस्या आज के समय में बहुत ही कॉमन हो चुकी है।  आम होती इस बीमारी से हार्ट अटैक, किडनी फेलियर, स्ट्रोक और कई अन्य स्वास्थ्य समस्याएं उत्पन्न होती हैं। ऐसे में हाई बीपी की परेशानी को हल्के में लेने की भूल नहीं करनी चाहिए। बीपी को कंट्रोल में रखने के लिए डॉक्टर की दवाइयों के साथ जरूरी है कि लोग एक्टिव लाइफस्टाइल और हेल्दी डाइट को फॉलो करें। इसके अलावा कई आयुर्वेदिक उपाय भी हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में सहायक हैं। आयुर्वेद के मुताबिक हाई ब्लड प्रेशर दो तरह के दोषों पित्त और वात की वजह से होता है। ऐसे में आइए जानते हैं किन आयुर्वेदिक उपायों से बीपी कंट्रोल करने में मिलेगी मदद-

शहद: वजन कम करने में शहद के फायदों से तो कई लोग परिचित हैं लेकिन क्या आपको पता है कि हाई बीपी को काबू में करने में भी शहद बेहद लाभदायक माना जाता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों की मानें तो रोजाना नियमित रूप से सुबह खाली पेट 2 चम्मच शहद खाने से उच्च रक्तचाप की परेशानी से निजात मिल सकता है। इसके अलावा, एक चम्मच शहद में अदरक का रस और पाउडर मिलाकर पीने से भी बीपी नॉर्मल रहती है।

करी पत्ता: सांभर, कढ़ी या कई अन्य खाद्य पदार्थों में करी पत्ता डालते हैं। इससे स्वाद तो बेहतर होता ही है, साथ में ये बीपी को कंट्रोल करने में भी मददगार है। इसमें मौजूद तत्व ब्लड वेसल्स को एक्सपैंड करते हैं जिससे शरीर में ब्लड फ्लो सुचारू रूप से होता है। इससे बीपी के स्तर को कंट्रोल में रहने में मदद मिलती है। 25 से 30 करी पत्ते लेकर उन्हें अच्छे से धो लें। मिक्सर में इसे पीस लें फिर एक गिलास पानी मिलाकर जूस जैसा तैयार कर लें। आप चाहें तो इसमें नींबू का रस भी मिला सकते हैं।

इलायची: सुपर फूड इलायची को आयुर्वेद में भी बहुत जरूरी माना जाता है। कई बीमारियों के इलाज में इसका इस्तेमाल किया जाता है। इलायची में एंटी-ऑक्सीडेंट्स व डाय-यूरेटिक प्रॉपर्टीज पाए जाते हैं जो मरीजों के बीपी का स्तर नॉर्मल बनाए रखने में मदद करते हैं। एक चम्मच इलायची पाउडर में एक चम्मच शहद मिलाएं और एक कप गर्म पानी में इस मिश्रण को डाल कर रोजाना दिन में 2 बार पीयें।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 डायबिटीज के कारण भी हो सकती है अधिक थकान, ये लक्षण भी देते हैं हाई ब्लड शुगर की चेतावनी
2 इम्युनिटी से लेकर High BP तक, इन बीमारियों के लिए रामबाण से कम नहीं तुलसी, जानिये इस्तेमाल का तरीका
3 फूलगोभी से लेकर सोयाबीन तक, जानिये- Thyroid के मरीजों को किन चीजों से करना चाहिए परहेज
ये पढ़ा क्या?
X