ताज़ा खबर
 

Weight Loss: घर बैठे इन 4 योग आसनों से वजन आसानी से कर सकते हैं कम, जानिये…

Yoga for Weight Loss: फिटनेस केवल हेल्थ के लिए ही नहीं बल्कि पर्सनैलिटी डेवेलपमेंट और आत्म-विश्वास बढ़ाने में भी मददगार है

नौकासन करने से कमर टोन होता है जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है

Yoga for Weight Loss: आज के समय में कोई भी इंसान मोटा दिखना पसंद नहीं करता, ऐसे में हर कोई अपनी फिटनेस के प्रति सजग हो गया है। मोटे लोगों की तुलना में पतले लोग ज्यादा स्वस्थ और बीमारियों से दूर रहते हैं। ये न केवल स्वस्थ बल्कि अधिक एक्टिव भी होते हैं और अधिकतर कार्यों को करने की इनकी क्षमता मोटे लोगों से ज्यादा होती है। व्यस्त जीवन-शैली के बावजूद भी लोग फिट रहने के लिए हर संभव प्रयास करते हैं। फिटनेस केवल हेल्थ के लिए ही नहीं अपितु पर्सनैलिटी डेवेलपमेंट और आत्म-विश्वास बढ़ाने में भी मददगार है। ऐसे में अगर आप भी अपने बढ़ते वजन, बाहर निकलते तोंद और मोटापा से आजिज होकर इनसे छुटकारा पाने चाहते हैं, तो इन योगासनों को ट्राय कर सकते हैं-

कपाल भाति: संस्कृत में कपाल का मतलब खोपड़ी और भाति का अर्थ प्रकाशमान होता है। इस योगासन को करने से पाचन तंत्र और पेट की मांसपेशियों को मजबूती मिलती है। साथ ही साथ, ये शरीर में मौजूद अतिरिक्त फैट को बाहर निकालने में भी मदद करता है। इसके अलावा, कपाल भाति करने से नेसल पैसेज को मजबूती मिलती है जिससे छाती में मौजूद ब्लॉकेज खुल जाते हैं। वहीं, ये ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाने में भी मददगार है। ये स्मरण शक्ति को बढ़ाने में भी कारगर है। इसके अलावा, तनाव व डिप्रेशन से उबारने में भी कपाल भाति अहम भूमिका निभाता है।

नौकासन: नौकासन करने से कमर टोन होता है जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है। इसके अलावा, ये योगासन करने से पीठ, पेट और पैर की मांसपेशियां मजबूत होती हैं। साथ ही साथ, यह गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं को दूर करने में भी कारगर है। नौकासन करने से एब्डॉमिनल मसल्स भी बनते हैं। ये शरीर के सर्कुलेटरी, नर्वस और हार्मोनल सिस्टम को भी रेगुलेट करता है और शरीर से सुस्ती को दूर करने में भी सक्षम है।

वशिष्टासन: इस आसन को करने से कमर के आसपास जमी चर्बी को घटाने में मदद मिलती है। साथ ही इससे कलाइयां और कंधे मजबूत होते हैं। इस योगासन को करने से धीरे-धीरे आपको अपने शरीर को होल्ड करनी की क्षमता में सुधार नजर आने लगेगा। इसी वजह से काफी देर तक एक ही मुद्रा में बैठे रहने से भी कमर दर्द की परेशानी नहीं होगी। इसके अलावा, यह संतुलन की भावना में सुधार करता है और एकाग्रता को बढ़ाता है।

संतुलनासन: संतुलनासन जांघ, हाथ और कंधों को मजबूती प्रदान करता है। यह पूरे शरीर को सक्रिय करता है जिससे मोटापा कम करने में मदद मिलती है। इसके अलावा, ये योगासन करने से हर तरफ पॉजिटिविटी की भावना पैदा होती है। इस आसन को करने से नर्वस सिस्टम अधिक संतुलित होता है। यह रीढ़ और पेट की मांसपेशियों को भी मजबूत बनाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 योग करने वाले इन 5 फूड्स को जरूर करें डेली रूटीन में शामिल, मिलेगी एनर्जी