X

रात में नहीं आती है नींद? ये 4 प्राकृतिक नुस्खे कर सकते हैं आपकी मदद

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में अनिद्रा एक आम समस्या की तरह उभरकर सामने आ रही है। तनाव, अवसाद, गलत खान-पान, गलत दिनचर्या, शारीरिक श्रम न करना इत्यादि इसकी वजह हो सकते हैं।

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में अनिद्रा एक आम समस्या की तरह उभरकर सामने आ रही है। तनाव, अवसाद, गलत खान-पान, गलत दिनचर्या, शारीरिक श्रम न करना इत्यादि इसकी वजह हो सकते हैं। रात में नींद न आने की वजह से बहुत से लोग नींद की गोलियां भी खाते हैं। यह सेहत के लिए सही नहीं होता। ऐसे में इसका प्राकृतिक और स्थायी उपचार ज्यादा जरूरी होता है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही प्राकतिक तरीकों के बारे में बताने वाले हैं जिनसे आप अनिद्रा का सही इलाज कर सकते हैं।

1. गाय का दूध – रात में गाय का दूध पीने से नींद का चक्र दुरुस्त बनता है। ऐसा एक अध्ययन में कहा गया है। दक्षिण कोरिया में हुआ यह अध्ययन बताता है कि रात के समय दुहे गए गाय के दूध में अपेक्षाकृत ट्रिप्टोफन और मेलाटोनिन की मात्रा ज्यादा होती है। ये प्राकृतिक हार्मोन्स होते हैं जो नींद-चक्र दुरुस्त रखने के लिए जरूरी होते हैं।

2. हल्दी वाला दूध – इन्सोम्निया यानी कि अनिद्रा से पीड़ित लोगों को रोज रात को सोने से पहले हल्दी वाला गर्म दूध पीना चाहिए। हल्दी में ट्रिप्टोफन नाम का एमीनो एसिड की काफी मात्रा पाई जाती है। यह शरीर और दिमाग को आराम और शांति देने के लिए जाना जाता है। इससे दिमाग को आराम मिलता है जिससे अच्छी नींद आती है।

3. केले के छिलके की चाय – केले और उसके छिलके में पर्याप्त मात्रा में इलेक्ट्रोलाइट्स पाए जाते हैं। ये शरीर की ओवरऑल हेल्थ के लिए भी जरूरी होता है। इसके अलावा केले के छिलके में ट्रिप्टोफन भी पाया जाता है। यह अनिद्रा के लिए काफी फायदेमंद होता है। दिमाग में यह ट्रिप्टोफन सेरोटोनिन में बदल जाता है। इसके लिए आपको हर रोज केले के छिलके की चाय पीनी चाहिए। इसके लिए छिलके सहित एक केला आधा काटिए और 10 मिनट तक पानी के साथ उबालिए। इस पानी के पी लीजिए।

4. जायफल-दूध – जायपल का सेवन भी अच्छी नींद के लिए बेहद फायदेमंद होता है। यह शरीर में सेरोटोनिन का प्रोडक्शन बढ़ा देता है। यह तनाव से उत्पन्न होने वाले एंजाइम्स का स्राव रोकने का काम करता है। इसके लिए आपको एक चुटकी जायफल पाउडर को एक गिलास गर्म दूध में मिलाकर पीना है।

Outbrain
Show comments