कान दर्द की परेशानी से छुटकारा दिला सकते हैं ये 4 घरेलू उपाय, जानिये

हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक पुदीने यानी पेपरमिंट के इस्तेमाल से भी कान में दर्द की परेशानी को दूर किया जा सकता है

ear pain, ear infection, कान में दर्द, कान दर्द
औषधीय गुणों से भरपूर तुलसी का इस्तेमाल कान में दर्द से छुटकारा पाने में भी किया जाता है

आम दिनों में भी कुछ स्वास्थ्य समस्याएं लोगों को परेशान कर सकती हैं, ऐसी ही एक परेशानी है कान में दर्द होना। ये दर्द अगर तुरंत कम न हो या इसका कोई उपाय नहीं किया जाए तो असहनीय तकलीफ हो सकती है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक सिर्फ छोटे बच्चों में ही नहीं, ये परेशानी बड़ों को भी विचलित कर सकती है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार कान में दर्द होने पर लोगों को बुखार तक आ सकता है। इस वजह से कई बार सिर दर्द, चिड़चिड़ापन, सोने में दिक्कत, कम सुनाई देना और कान में खिंचाव महसूस हो सकता है। वहीं, इस दर्द के पीछे कानों में जमा में मैल, साइनस इंफेक्शन, जलन, संक्रमण, जलन और दांत में दर्द जिम्मेदार होते हैं। कान के दर्द से छुटकारा पाने में कुछ घरेलू उपाय मददगार साबित हो सकते हैं।

लहसुन: सेहत संबंधी कई दिक्कतों को दूर करने में लहसुन का इस्तेमाल कारगर साबित होता है। इसमें मौजूद गुण दर्द और सूजन की परेशानी को कम करने में असरदार साबित हो सकते हैं। लहसुन की कुछ कलियों को दो चम्मच सरसो या तिल के तेल में काला होने तक गर्म करें। फिर ठंडा होने पर कान में इसकी दो-तीन बूंदें डालें। इसके अलावा, लहसुन, अदरक, सहजन के बीज, मूली और केले के पत्ते को अलग-अलग पीस लें। इसके रस को निकालकर गुनगुना कर लें। हल्का गुनगुना ही यह रस कान में डालें।

पुदीना: हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक पुदीने यानी पेपरमिंट के इस्तेमाल से भी कान में दर्द की परेशानी को दूर किया जा सकता है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक ठंड लगने या फिर कान में पानी जाने के कारण जब दर्द होने लगे तो इसका इस्तेमाल प्रभावी हो सकता है। पुदीने की ताजी पत्तियों से रस निकाल लें, फिर जिस कान में दर्द है उसमें एक से दो बूंद डालें। इससे जल्द आराम मिलने की संभावना रहती है।

प्याज का रस: प्याज में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल गुण कान में इंफेक्शन के खतरे को कम करते हैं। साथ ही, इसमें मौजूद तत्व दर्द से निजात दिलाने में भी मददगार होते हैं। एक्सपर्ट्स के मुताबिक कान में दर्द होने पर एक चम्मच प्याज के रस को हल्का गुनगुना कर लें और दिन में दो बार कान में 2 से 3 बार डालें।


तुलसी का रस: औषधीय गुणों से भरपूर तुलसी का इस्तेमाल कान में दर्द से छुटकारा पाने में भी किया जाता है। तुलसी की ताजा पत्तियों का रस निकाल लें। फिर जिस कान में दर्द है उसमें इसकी एक से दो बूंदें डालें।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट