ताज़ा खबर
 

लो ब्लड प्रेशर के कारण हो सकती हैं गंभीर समस्याएं, छुटकारा पाने के लिए आजमाएं ये आयुर्वेदिक उपाय

लो ब्लड प्रेशर के कारण छाती में दर्द, सांस फूलना, उल्टी, आना, त्वचा का पीला पड़ जाना, गर्दन में अकड़न, सिरदर्द, चक्कर आना, बेहोशी, सांस फूलना या फिर सांस लेने में तकलीफ और दिल की धड़कनों का असामान्य रूप से बढ़ने जैसी समस्याएं होने लगती हैं।

ब्लड प्रेशर के मरीजों को ऑयली और स्पाइसी फूड्स के सेवन से बचना चाहिए

आज की तनावभरी जिंदगी के कारण ब्लड प्रेशर की समस्या बेहद ही आम हो गई है। कम उम्र में ही लोग इसकी चपेट में आ जाते हैं। ब्लड प्रेशर का बढ़ना और घटना दोनों ही खतरनाक होता है। एक साधारण व्यक्ति के शरीर में ब्लड प्रेशर का नॉर्मल स्तर 120/80 मिमी होता है। अगर यह स्तर गिर जाए तो इस स्थिति को लो ब्लड प्रेशर कहा जाता है। मेडिकल भाषा में निम्न रक्त चाप को हाइपोटेंशन कहा जाता है।

दुनियाभर में उच्च रक्तचाप की तरह ही निम्न रक्तचाप की समस्या से भी लाखों लोग जूझ रहे हैं। लो ब्लड प्रेशर के कारण छाती में दर्द, सांस फूलना, उल्टी, आना, त्वचा का पीला पड़ जाना, गर्दन में अकड़न, सिरदर्द, चक्कर आना, बेहोशी, सांस फूलना या फिर सांस लेने में तकलीफ और दिल की धड़कनों का असामान्य रूप से बढ़ने जैसी समस्याएं होने लगती हैं। शरीर में लो ब्लड प्रेशर के स्तर को आयुर्वेदिक उपायों के जरिए भी कंट्रोल किया जा सकता है।

लो ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के आयुर्वेदिक उपाय-

अदरक: इसके लिए अदरक के छोटे-छोटे टुकड़े करके नींबू के रस में डाल दें। आप इसमें थोड़ा-सा सेंधा नमक भी मिला सकते हैं। इस मिश्रण को एक जार में स्टोर करके रखें। रोजाना अदरक के टुकड़े का दिन में 3-4 बार सेवन करें। इससे आपको ब्लड प्रेशर नॉर्मल हो जाएगा।

टमाटर: निम्न रक्तचाप की समस्या से छुटकारा दिलाने में टमाटर भी बेहद ही कारगर है। इसके लिए टमाटर के रस में काला नमक और काली मिर्च डालकर नियमित तौर पर सेवन करें। इससे कुछ ही दिनों आपको फर्क महसूस होने लगेगा।

चुकंदर का रस: रोजाना सुबह-शाम चुकंदर के रस का सेवन करने से भी निम्न रक्तचाप कंट्रोल में रहता है।

किशमिश: निम्न रक्तचाप के रोगियों के लिए किशमिश खाना बेहद ही फायदेमंद होता है। इसके लिए रात में थोड़ी-सी किशमिश को भिगोकर रख दें। फिर सुबह खाली पेट इसका सेवन करें। इससे रक्तचाप धीरे-धीरे नियंत्रित होने लगता है।

आंवला: आंवले का रस लो ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में कारगर है। आप चाहें तो नियमित तौर पर आंवले के मुरब्बे का सेवन कर सकते हैं। इससे भी रक्तचाप नियंत्रित रहता है।

Next Stories
1 यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में कारगर हैं ये प्राकृतिक उपाय, जानिये
2 जामुन खाने के बाद कभी न करें इन तीन चीजों का सेवन, स्वास्थ्य पर पड़ सकता है भारी
3 ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में मददगार माना गया है काले चने का पानी, ये ड्रिंक्स भी हैं काम के
ये पढ़ा क्या?
X