ताज़ा खबर
 

हाई यूरिक एसिड से ग्रस्त मरीज भूलकर भी न करें इन चीजों का सेवन, बढ़ सकती है परेशानी

हाई यूरिक एसिड मरीजों को शुगर युक्त ड्रिंक्स के सेवन से बचना चाहिए। क्योंकि यह चीजें बॉडी में शुगर की मात्रा को बढ़ा देते हैं। जिसके कारण आपके जोड़ों में दर्द बढ़ सकता है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक यूरिन में नॉर्मल यूरिक एसिड का लेवल 24 घंटे में 250 से 750 मिलीग्राम हो सकता है

अनियमित लाइफस्टाइल, खराब खानपान और फिजिकल एक्टिविटी की कमी के कारण आज लोगों का शरीर बीमारियों का घर बनता जा रहा है। ऐसी ही एक स्वास्थ्य समस्या है हाई यूरिक एसिड की। शरीर में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ने से लोग कई दूसरी बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। इसके कारण गठिया-बाय, अर्थराइटिस, गाउट, किडनी फेलियर, मल्पीटल ऑर्गन फेलियर, आखों की रोशनी धुंधली होना और हार्ट अटैक का खतरा भी बढ़ जाता है।

एक अध्य्यन के मुताबिक दुनिया में हर पांच में से एक व्यक्ति हाई यूरिक एसिड की परेशानी से जूझ रहा है। बॉडी में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ने से उठने-बैठने और चलने-फिरने में तकलीफ, जोड़ों में दर्द और सूजन, पैरों की उंगलियों में सूजन, गांठों में दर्द और सूजन जैसी समस्याएं होने लगती हैं। यूरिक एसिड के मरीजों को अपने खानपान का ध्यान रखना बेहद ही जरूर होता है। अगर आप हाई यूरिक एसिड की समस्या से जूझ रहे हैं तो कुछ ऐसी चीजें हैं, जिनका भूलकर भी सेवन नहीं करना चाहिए। इन चीजों का सेवन करने से आपकी समस्या कहीं अधिक बढ़ सकती है।

शुगर वाले ड्रिंक्स: हाई यूरिक एसिड मरीजों को शुगर युक्त ड्रिंक्स के सेवन से बचना चाहिए। क्योंकि यह चीजें बॉडी में शुगर की मात्रा को बढ़ा देते हैं। जिसके कारण आपके जोड़ों में दर्द बढ़ सकता है। ऐसे में आपको फलों के जूस और चीनी युक्त सोडे के सेवन से बचना चाहिए।

दही का सेवन: यूरिक एसिड के मरीजों को दही के सेवन से  भी बचना चाहिए। दही में प्रोटीन की उच्च मात्रा होती है जो यूरिक एसिड के मरीजों के लिए खतरनाक साबित हो सकती है। दही में ट्रांस फैट भी मौजूद होते हैं, जो बॉडी में यूरिक एसिड की मात्रा को बढ़ा सकते हैं

दाल और चावल: जिन लोगों को हाई यूरिक एसिड की परेशानी है, उन्हें दाल और चावल खाने से परहेज करना चाहिए। दाल में प्रोटीन की प्रचुर मात्रा होती है। ऐसे में छिलके वाली दाल का तो भूलकर भी सेवन नहीं करना चाहिए।

नॉनवेज: हाई यूरिक एसिड के मरीजों को नॉनवेज का भी सेवन करने से बचना चाहिए। रेड मीट में मौजूद प्रोटीन की उच्च मात्रा शरीर में यूरिक एसिड के स्तर को बढ़ा सकता है।

Next Stories
1 बेली फैट घटाने में कारगर है शहद, इन 3 तरीकों से कर सकते हैं इस्तेमाल
2 खाने के बाद इतना होना चाहिए ब्लड शुगर लेवल नहीं तो हो सकता है नुकसान, जानिये क्या है जांच का सही तरीका
3 एनीमिया के मरीज अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं ये चीजें, आयरन की कमी होगी पूरी
ये पढ़ा क्या?
X