ताज़ा खबर
 

क्या आप भी दवाई आधी करके खाते हैं?

कई लोग दवा की डोज को कम करने के लिए या किसी अन्य कारण से दवाई को तोड़कर या आधी करके लेते हैं, जो कि उनके लिए खतरनाक साबित हो सकता है।

चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (Source: Agency)

कई लोग दवा की डोज को कम करने के लिए या किसी अन्य कारण से दवाई को तोड़कर या आधी करके लेते हैं, जो कि उनके लिए खतरनाक साबित हो सकता है। जर्नल ऑफ एडवांस में छपी रिसर्च में सामने आया है कि गोली को आधा करके लेना सेहत के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। बेल्जियम की गेन्ट यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं का कहना है कि इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं। इस रिसर्च में शामिल शोधकर्ताओं का कहना है कि सबसे ज्यादा खतरा उन दवाओं से होता है, जिन दवाओं में सेहत के लिए लाभदायक होने और नुकसानदायक होने के बीच बहुत कम अंतर होता है।

इस शोध में शोधकर्ताओं ने पाँच वॉलंटियर्स को आठ अलग-अलग आकार की गोलियां दी और उनसे इन्हें तीन तरीके से तोड़ा गया और इस दौरान गोली को तोड़ने में गोली तोड़ने वाले औजार, चाकू और कैंची का इस्तेमाल किया। साथ ही इस दौरान गोलियों को तीन हिस्सों में और तीन तरीकों से तोड़ा गया और सभी गोलियों को अलग अलग तरीकों से तोड़ा गया। इन गोलियों में दिल की बीमारियों की गोलियां, आर्थिटिस की गोलियां और अन्य बीमीरियों की गोलियां शामिल थीं। इससे शोधकर्ताओं को पता चला कि 31 प्रतिशत गोलियों के दूसरे हिस्से में दवा की मात्रा दूसरे टुकड़े के मुकाबले बहुत कम थी और यह जरुरी मात्रा से भी बहुत कम था।

वहीं गोली तोड़ने के लिए इस्तेमाल में लिए गए औजार में कम गलतियां थीं। साथ ही शोधकर्ताओं ने बताया कि इस दौरान गोल, छोटी, बड़ी, चोकोर गोलियां इस्तेमाल में ली गई थीं। शोध का नेतृत्व कर रही डॉक्टर शार्लट वेरू का कहना हैं कि दवाओं को तोड़ने के कई कारण हो सकते हैं। उनका कहना था कि ज़्यादातर दवा तोड़ने के लिए ठीक नहीं होती। वहीं शोधकर्ताओं की राय थी कि दवाई बनाने वाली कंपनियां लिक्विड दवाइयों पर ध्यान दें, ताकि तोड़ने की जरुरत नहीं पड़े।

हेल्थ से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

रिलायंस जियो इफेक्ट: एयरटेल ने 1 अप्रैल से किया पूरे देश में फ्री रोमिंग देने का ऐलान

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App