ताज़ा खबर
 

डायबिटीज के मरीजों के लिए रामबाण से कम नहीं है पालक, इस तरह कम करता है ब्लड शुगर

Tips for Diabetes Patients: इससे मेटाबॉलिज्म बेहतर होती है और वजन कम करने की प्रक्रिया भी ज्यादा मुश्किल नहीं रह जाती है।

Diabetes, diabetes food, diabetes food chart, diabetes food list, sugar me kya khayeबहुत कम मात्रा में कैलोरी होने के कारण डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए यह बहुत लाभकारी है

Tips For  Diabetes Food: डायबिटीज जीवन शैली से जुड़ा रोग है जिसे जड़ से खत्म करना जितना मुश्किल है, उतना ही आसान है इसे कंट्रोल करना। मधुमेह रोगी खानपान (Diabetes Food) का ख्याल रखकर अपने ब्लड शुगर को नियंत्रित रख सकते हैं। इससे डायबिटीज काबू में रहता है। कई लोगों को ऐसा लगता है कि केवल मीठा खाने से ही डायबिटीज की परेशानी हो सकती है। हालांकि, तनाव, मोटापा और कोलेस्ट्रॉल जैसे तत्व भी शरीर में ब्लड शुगर को प्रभावित करते हैं।

मरीजों को कोशिश करनी चाहिए कि वो डाइट में उन खाद्य  पदार्थों को शामिल करें जिनका ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Diabetes Patients Diet) लो हो, ताकि उनका ब्लड शुगर न बढ़े। हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो पालक को अपने डेली डाइट में शामिल करने से डायबिटीज पेशेंट को इसे कंट्रोल करने में मदद मिलेगी। अमेरिकन डायबिटीज एसोसिएशन के मुताबिक पालक डायबिटीज के लिए सुपरफूड है। आइए जानते हैं –

तनाव कम करने में कारगर: केवल शारीरिक रूप से ही नहीं, बल्कि पालक खाने से मानसिक शांति भी मिलती है। जर्नल ऑफ क्लिनिकल मेडिसिन द्वारा किये गए एक शोध के अनुसार पालक में एंटी-स्ट्रेस और एंटी-डिप्रेसेंट गुण पाए जाते हैं जो तनाव या अवसाद की स्थिति में लोगों को जल्दी परेशान नहीं होने देती है। इसके अलावा, इस साग में मौजूद फोलेट, विटामिन ए और ल्यूटिन भी स्ट्रेस कम करने में कारगर है।

लो कोलेस्ट्रॉल फूड: पालक में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कन होती है। एक कप पालक के जूस में कैलोरी की मात्रा केवल सात होती है। पालक में बहुत कम मात्रा में कैलोरी होने के कारण डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए यह बहुत लाभकारी है। साथ ही ये शरीर से बैड कोलेस्ट्रॉल को कम कर गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करता है। बॉडी में गुड कोलेस्ट्रॉल होने से ब्लड शुगर पर कंट्रोल पाना आसान हो जाता है।

वजन कम करने में मददगार: लो कैलोरी फूड में शामिल पालक वजन कम करने में भी मददगार है। इसमें पानी की मात्रा अधिक होती है, साथ में फाइबर कंटेंट भी ज्यादा होता है। ये सभी चीजें खाने को पचाने में मददगार है। इससे मेटाबॉलिज्म बेहतर होती है और वजन कम करने की प्रक्रिया भी ज्यादा मुश्किल नहीं रह जाती है।

कार्बोहाइड्रेट होता है कम: 5 ग्राम प्रति कप पालक में केवल 0.83 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होता है। बहुत कम कार्बोहाइड्रेट होने के कारण यह डायबिटीज रोगियों के लिए लाभदायक होता है। बता दें कि कार्बोहाइड्रेट युक्त खाद्य पदार्थ ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 चिया सीड्स से लेकर फ्लैक्स सीड्स तक, अच्छी सेहत के लिए डाइट में शामिल करें ये 3 सीड्स
2 नवजात बच्चों को ज्यादा होता है पीलिया का खतरा, जानें लक्षण, कारण और उपचार
3 सर्दी-जुकाम को ठीक करने में कारगर है पुदीना, इम्युनिटी बढ़ाने के लिए ऐसे करें इस्तेमाल
यह पढ़ा क्या?
X