ताज़ा खबर
 

“लहसुन खाने से ठीक हो सकता है Coronavirus”, ऐसे अफवाहों से भरा पड़ा है सोशल मीडिया- WHO को देनी पड़ी सफाई

Coronavirus Rumours, Coronavirus Facts, Coronavirus Myths, WHO on Coronavirus Myths: कोरोना वायरस से संबंधित मार्केट में न तो कोई टीका आया है और न ही अब तक किसी दवा की घोषणा हुई है।

सोशल मीडिया पर कोरोना वायरस को लेकर कई अफवाह फैल रहे हैं

Coronavirus Rumours, Coronavirus Facts, Coronavirus Myths, WHO on Coronavirus Myths: कोरोना वायरस के घातक कहर के प्रकोप से पूरी दुनिया में डर का माहौल बना हुआ है। अलग-अलग देशों में तकरीबन 66 हजार से भी ज्यादा लोगों को अपना शिकार बना चुकी इस वायरस का अब तक कोई इलाज सामने नहीं आया है। हालांकि, विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इस वायरस से बचने को लेकर एडवाइजरी जारी की है लेकिन फिर भी लोग कोरोना वायरस को लेकर सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे हैंड ड्रायर्स, लहसुन और अल्कोहल से इन वायरस को मारने के अफवाहों पर विश्वास कर रहे हैं। ‘दी इंडियन एक्सप्रेस’ की एक खबर के अनुसार, डब्लूएचओ ने इन गलत जानकारियों पर विराम लगाने के लिए कोरोना वायरस से जु़ड़े कई मिथकों के बारे में बात की।

हैंड ड्रायर्स नए कोरोना वायरस को मारने में नहीं हैं सक्षम: ऐसी अफवाह उड़ाई जा रही है कि 30 सेकेंड्स तक हैंड ड्रायर से निकलने वाली गर्म हवा के नीचे हाथ रख लेने से वायरस छूमंतर हो जाएंगे। हालांकि, डब्लूएचओ के अनुसार इस बात में कोई भी सच्चाई नहीं है। उसके अनुसार, इस वायरस से बचाव के लिए हो सके तो हाथों को अल्कोहल आधारित हैंडवाश से बार-बार धुलें।

इसके अलावा, माउथवाश के इस्तेमाल से कोरोना वायरस से बचा जा सकता है, इस बात की जानकारी भी कहीं नहीं मिलती है। वहीं, कई लोग इस वायरस से बचने के लिए अल्कोहल और क्लोरीन का छिड़काव भी कर रहे हैं। लेकिन ऐसा करने से वायरस तो नहीं ही मरते हैं बल्कि आपके कपड़ों और शरीर के लिए भी हानिकारक हो सकता है।

लहसुन के इस्तेमाल से नहीं होता कोरोना वायरस ठीक: लहसुन खाना कई बीमारियों में कारगर साबित होता है। लेकिन, कोरोना वायरस से लड़ने में लहसुन असरदायक है इस बात का प्रमाण अब तक नहीं मिला है। इसके अलावा, कई लोग इस वायरस से बचने के लिए तिल के तेल का इस्तेमाल कर रहे हैं पर डब्लूएचओ की ओर से जारी वैसे पदार्थ की सूची जो कोरोना वायरस से बचाव में सक्षम हैं, उसमें तिल के तेल को शामिल नहीं किया गया है।

निमोनिया का टीका कोरोना वायरस में नहीं है कारगर: रिपोर्ट के अनुसार, कोरोना वायरस अभी नया है और इसके इलाज के लिए नए टीके की जरूरत है। ऐसे में निमोनिया से लड़ने वाले टीके कोरोना वायरस से बचाव में फायदेमंद नहीं हैं। वहीं, एंटीबायोटिक्स खाने से भी आप इस वायरस से नहीं बच सकते। एंटीबायोटिक्स बैक्टीरिया ले लड़ने में प्रभावी होते हैं न कि वायरस से।

पालतू जानवरों से नहीं फैलता कोरोना वायरस: अब तक ऐसा कोई भी प्रमाण नहीं मिला है जिससे ये साबित हो सके कि कुत्ते-बिल्ली जैसे पालतू जानवरों से कोरोना वायरस का खतरा है। हालांकि, लोगों को अपने पालतू जानवरों के संपर्क में आने के बाद हाथों को अच्छे से धो लेने की सलाह दी जाती है। वहीं, चीन से आया कोई पैकेज या लेटर के इस्तेमाल से जरूरी नहीं है कि आप भी कोरोना वायरस के शिकार हो जाएं।

Next Stories
1 करेंसी नोट के जरिये भी एक व्यक्ति से दूसरे में फैल सकता Coronavirus, सामने आई चौंकाने वाली जानकारी
2 क्या आपके मसूड़ों से आता है खून? जरूर आजमाएं ये घरेलू नुस्खे, तुरंत मिलेगी राहत
3 हेल्थ: बदलते मौसम में रहें स्वस्थ
ये पढ़ा क्या?
X