मुंह से बदबू आना भी हो सकता है डायबिटीज का लक्षण, जानिये कैसे पाएं इससे छुटकारा

Oral Hygiene of Diabetes Patients: डायबिटीज के मरीजों को दांत में कीड़े लगने की शिकायत भी देखने को मिलती है

diabetes, diabetes symptoms, oral hygiene, oral health, Ways to Get Rid of Bad Breath
मुंह में जब अधिक मात्रा में शुगर व स्टार्च जमा होने लगता है तो वहां मौजूद बैक्टीरिया विकसित होने लगते हैं

Diabetes Symptoms: अपनी ओवरॉल पर्सनैलिटी को बनाये रखने के लिए लोग तमाम तरीके अपनाते हैं। पर कई बार छोटी-छोटी चीजें इसमें रुकावट लाती हैं। मुंह की बदबू कई बार शर्मिंदगी का कारण बन सकती है। अक्सर जिन लोगों के मुंह से स्मेल आती है, दूसरे लोग उनसे दूरी बनाकर रखते हैं। आमतौर पर लोग इस परेशानी को ज्यादा गंभीरता से नहीं लेते, पर मुंह से बदबू आना कई बीमारियों के शुरुआती लक्षणों में शामिल है। एक अमेरिकी अध्ययन के मुताबिक मुंह से गंदी बदबू आने का एक कारण डायबिटीज टाइप 2 भी हो सकता है। बता दें कि शरीर में जब पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन नहीं बन पाता है तो लोग डायबिटीज की परेशानी से पीड़ित हो जाते हैं। इंसुलिन हार्मोन ब्लड में शुगर या ग्लूकोज की मात्रा को नियंत्रित करता है।

शोध में क्या चला है पता: ये रिसर्च कर रहे शोधकर्ताओं के मुताबिक मधुमेह रोगियों के शरीर में ग्लूकोज का स्तर सिर्फ ब्लड में ही नहीं बल्कि मुंह में भी बढ़ सकता है। ऐसे में मुंह में मौजूद बैक्टीरिया इस ग्लूकोज को अपना आहार बनाते हैं, जिससे कि दांत और मसूड़ों के बीच ही पनपने लगते हैं। यही कारण है कि इन मरीजों के मुंह में से बदबू आने लगती है। इसके अलावा, मुंह में छाले, मसूड़ों में खून और दांतों में सेंसेटिविटी भी इसका लक्षण हो सकता है।

ऐसे रखें मुंह को हेल्दी: मुंह की बदबू से परेशान लोगों को खूब पानी पीना चाहिए, मुंह में नमी की कमी के कारण लार नहीं बनती जिससे मुंह में बैक्टीरिया बनने लगते हैं। इसके अलावा, खाली पेट रहने से भी मुंह से बदबू आने लगती है, ऐसे में कुछ खाते-पीते रहना चाहिए। ब्रश करते समय जीभ को साफ करना भी बहुत जरूरी है, साथ ही ब्रश का चुनाव करते वक्त भी अलर्ट रहें। जो लोग मुंह की बदबू से परेशान रहते हैं उन्हें सौंफ का सेवन करना चाहिए। सौंफ के सेवन से मुंह की बदबू आना बंद हो जाती है।

डायबिटीज के कारण होती हैं दांत की ये परेशानियां: डायबिटीज के मरीजों को दांत में कीड़े लगने की शिकायत भी देखने को मिलती है। मुंह में जब अधिक मात्रा में शुगर व स्टार्च जमा होने लगता है तो वहां मौजूद बैक्टीरिया विकसित होने लगते हैं। इससे दांतों में सड़न की समस्या आ जाती है। इसके अलावा, इस बीमारी से पीड़ित लोगों की इम्युनिटी कमजोर होती है जिस वजह से उन्हें मसूड़ों में इंफेक्शन की परेशानी भी हो सकती है।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट