ताज़ा खबर
 

स्किन में खुजली फैटी लिवर का हो सकता है लक्षण, जानें कैसे करें इस गंभीर बीमारी की पहचान

Fatty Liver Symptoms: फैटी लिवर के शुरुआती लक्षणों में स्किन में होने वाले कुछ बदलाव भी शामिल हैं

fatty liver disease, how to cure fatty liver, fatty liver symptoms, fatty liver cureडॉक्टर्स मानते हैं कि स्किन में खुजली या पीलापन फैटी लिवर का लक्षण है

Fatty Liver: एक शोध के अनुसार, लगभग 25 प्रतिशत लोग फैटी लिवर की परेशानी का सामना कर रहे हैं। ये बीमारी गलत खानपान व अनहेल्दी आदतों के कारण होती है। इस बीमारी में लिवर की सेल्स में अतिरिक्त या फिर अनवांटेड फैट की मात्रा बढ़ जाती है जिससे लिवर में सूजन आ जाती है। इस इंफ्लैमेट्री एक्शन से लिवर के टिश्यूज कठोर हो जाते हैं। आमतौर पर फैटी लिवर दो तरह का होता है – पहला एल्कोहलिक फैटी लिवर और दूसरा नॉन-एल्कोहलिक फैटी लिवर। एल्कोहलिक फैटी लिवर की बीमारी शराब पीने से होती है। वहीं, नॉन एल्कोहलिक फैटी लिवर की बीमारी तब होती है जब हमारे लिवर में वसा की मात्रा 10 गुणा ज्यादा हो जाती है।

ये बीमारी एक साइलेंट किलर के रूप में कार्य करता है क्योंकि इसके लक्षण तुरंत सामने नहीं आते हैं। इस बीमारी के शुरुआती संकेत पेट और स्किन पर देखने को मिल सकते हैं।

स्किन में आते हैं ये बदलाव: फैटी लिवर के शुरुआती लक्षणों में स्किन में होने वाले कुछ बदलाव भी शामिल हैं। डॉक्टर्स मानते हैं कि स्किन में खुजली या पीलापन फैटी लिवर का लक्षण है। इसके अलावा, फैटी लिवर की समस्या होने पर मरीज की हथेलियों का रंग लाल पड़ने लगता है। वहीं, आंखों का पीला पड़ना लिवर के स्वस्थ ना होने का एक संकेत है।

पेट संबंधी होती है दिक्कतें: फैटी लिवर के मरीजों को खाना पचाने में दिक्कत होती है। इस वजह से पेट में सूजन, इसके ऊपरी दायें हिस्से में असहनीय दर्द होने लगता है। ये समस्याएं अगर लोगों को शरीर में दिखने लगें तो वो डॉक्टर को जरूर दिखाएं। इसके अलावा, अचानक वजन कम होना, थकान, कमजोरी लगना इसके आम लक्षण हैं। इन संकेतों को देखकर कोई भी व्यक्ति फैटी लिवर की बीमारी का पता लगा सकता है। वहीं, कुछ मामलों में डॉक्टर्स कुछ टेस्ट के जरिये भी इस रोग की पहचान करते हैं।

ऐसे इस बीमारी से करें बचाव: जिन लोगों को फैटी लिवर की समस्या हो, उन्हें रिफाइन्ड कार्बोहाइड्रेट, नमक और चीनी कम खाना चाहिए। साथ ही, फाइबर युक्त भोजन खाने से लिवर साफ होता है। ऐसे में फैटी लिवर के मरीजों को दलिया, साबुत अनाज, छिलके वाली दालें और फलियों की सब्जी को अपने खाने में शामिल करना चाहिए। माना जाता है कि रोजाना सुबह खाली पेट ग्रीन टी पीने से लिवर पर इकट्ठा हुआ फैट कम होता चला जाता है।

Next Stories
1 बचपन से बुढ़ापे तक, महिलाओं को किन जरूरी हेल्थ चेकअप्स कराने की दी जाती है सलाह? जानिये
2 Diabetes के कारण शरीर के ये 5 अंग होते हैं प्रभावित, जानें
3 जाती हुई सर्दियां भी हो सकती हैं खतरनाक, इन 5 फूड्स से मजबूत बनी रहेगी इम्युनिटी
ये पढ़ा क्या?
X