ताज़ा खबर
 

क्या Uric Acid के मरीजों को खाना चाहिए अंडा? जानें किन बातों का रखें ध्यान

High Uric Acid Diet: अंडे के सेवन से लोगों का पेट ज्यादा देर तक भरा रहता है और वे ऊर्जावान महसूस करते हैं

जो लोग गठिया से ग्रस्त हैं उन्हें अपनी डाइट में प्रोटीन को कम से कम शामिल करना चाहिए

High Uric Acid: शरीर में प्राकृतिक रूप से भी कुछ केमिकल मौजूद होते हैं जिनमें से एक यूरिक एसिड भी है। बताया जाता है कि यूरिक एसिड एक ऐसा केमिकल है जो प्यूरीन के ब्रेक डाउन से बनता है। प्यूरीन की मात्रा शरीर में पहले से तो होती ही है, साथ ही कुछ फूड्स में भी ये प्रोटीन पाया जाता है। जब शरीर में यूरिक एसिड की अधिकता होती है तो ये जोड़ों में क्रिस्टल्स के रूप में जमा हो जाते हैं। इससे गठिया का खतरा ज्यादा होता है।

बताया जाता है कि यूरिक एसिड के मरीजों को अपने खानपान का खास ध्यान रखना चाहिए। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक जो लोग गठिया से ग्रस्त हैं उन्हें अपनी डाइट में प्रोटीन को कम से कम शामिल करना चाहिए। ऐसे में अक्सर लोगों के मन में ये सवाल आता है कि क्या अंडा खाना उनके लिए फायदेमंद होगा। आइए जानते हैं –

हाई यूरिक एसिड में अंडा: हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक यूरिक एसिड बढ़ने के पीछे प्यूरीन नामक प्रोटीन का हाथ होता है। ऐसे में लोगों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि उनके फूड्स में कौन सा प्रोटीन मौजूद है। अगर कोई खाद्य पदार्थ प्यूरीन से भरपूर होता है तो इसके सेवन से बचना चाहिए। बताया जाता है कि अंडा खाने से गठिया का खतरा नहीं होता हैं।

अंडे में प्यूरीन की मात्रा बेहद कम होती है। वहीं, ये प्रोटीन, विटामिन-बी12, विटामिन डी और कई एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होते हैं। ऐसे में यूरिक एसिड के मरीज बेझिझक अंडे की सफेदी का सेवन कर सकते हैं। एक शोध के मुताबिक औसतन सप्ताह में 7 अंडा खाने से कोई भी परेशानी नहीं होती है।

अंडा खाने के दूसरे फायदे: अंडे के सेवन से लोगों का पेट ज्यादा देर तक भरा रहता है और वे ऊर्जावान महसूस करते हैं। बता दें कि एक बड़े साइज के उबले अंडे में तकरीबन 6 ग्राम उच्च प्रोटीन और कई अन्य पोषक तत्व होते हैं। कहा जाता है कि अंडे के पीले भाग में प्रचुर मात्रा में आयरन पाया जाता है जो शरीर को बीमारियों से दूर रखने में मदद करते हैं। इसके अलावा, दिन की शुरुआत अंडे से करने से जल्दी भूख नहीं लगती है, ऐसे में अगर ज्यादा वजनदार लोग इसे खाते हैं तो उनके लिए वजन कम करना आसान होगा।

रखें इन बातों का ध्यान: ज्यादा अंडा खाना स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक भी हो सकता है। अंडे की जर्दी में कोलेस्ट्रॉल होता है, कहते हैं कि पीले भाग में करीब 200 मिलीग्राम कोलेस्ट्रॉल पाया जाता है। ऐसे में सीमित मात्रा में ही इसका सेवन करें। गर्मियों में एक से अधिक अंडा नहीं खाना चाहिए।

Next Stories
1 डायबिटीज रोगियों के लिए रामबाण माना जाता है सेब का सिरका, जानें कैसे करें इस्तेमाल
2 ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में मददगार हो सकता है तेजपत्ता, जानें दूसरे फायदे
3 कोरोना वैक्सीन लेने के बाद कैसा होना चाहिए खानपान, किन बातों का रखना चाहिए ध्यान? जानें
ये पढ़ा क्या?
X