शमिता शेट्टी को इस गंभीर बीमारी के कारण छोड़ना पड़ा था बिग बॉस का घर, जानिए इसके लक्षण और बचाव के तरीके

आंतों में सूजन की इस गंभीर बीमारी से एक्ट्रेस शमिता शेट्टी भी जूझ रही हैं। उन्होंने इस बता का खुलासा ‘बिग बॉस ओटीटी’ शो के दौरान किया था।

Shilpa-shetty-sister-shamita-8
शमिता शेट्टी बिग बॉस के घर में कंटेस्टेंट के तौर पर गई हैं (फोटो सोर्स- शमिता इंस्टाग्राम)

बिग बॉस शो में अलग-अलग तरह के विवादों के चलते अक्सर शमिता शेट्टी चर्चा में रहती हैं। वहीं, राकेश बापट (Rakesh Bapat) की दोस्ती की वजह से भी शमिता शेट्टी (Shamita Shetty) सुर्खियों में छायी हुई हैं। अभिनेत्री शमिता शेट्टी को रात (13 नवंबर) बिग बॉस 15 के घर को मेडीकल कारणों से छोड़ना पड़ा था। उनकी तबीयत खराब होने के कारण उन्हें घर से बाहर निकाल दिया गया था। जबकि शमिता और राजीव के साथ लड़ाई के दौरान चाकू से खुद को नुकसान पहुंचाने की कोशिश करने पर अफसाना को बिग बॉस 15 के घर से निकाल दिया गया था। हालांकि लंबे इंतजार के बाद हाल ही में शीर्ष 5 प्रतियोगियों की घोषणा से पहले शो में उनकी वापसी हो चुकी है।

42 वर्षीय शमिता शेट्टी ने बिग बॉस ओटीटी में अक्षरा सिंह के साथ हुई उनकी लड़ाई के बाद अपनी मेडिकल कंडीशन को लेकर बड़ा खुलासा किया था। उन्होंने घरवालों को बताया था कि उन्हें कोलिटिस (Colitis) की समस्या है। जिसकी वजह से वे साधारण खाना नहीं खा सकती हैं। शमिता ने कहा कि उनके लिए साधारण गेहूं और चावल से बनी चीज़ों के अलावा अन्य कई फूड्स का सेवन करना आसान नहीं है क्योंकि इससे उन्हें परेशानी होती है। शमिता ने कहा कि वह इसी वजह से केवल ग्लूटेन-फ्री डाइट लेती हैं।

क्यों होता है कोलाइटिस: अजमेर के वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर लोकेश कुमार मीणा ने जनसत्ता डॉट कॉम से बात करते हुए बताया, ‘कोलाइटिस सामान्य भाषा में पेट की आंतों के आंतरिक परत में सूजन और संक्रमण है। वहीं, पेट से जुड़ी समस्याएं जैसे डायरिया या पेट फूलने की समस्या के कारण भी यह बीमारी हो सकती है। कोलाइटिस कई प्रकार के होते है जैसे अल्सरेटिव, इस्केमिक, एलर्जिक आदि।’

लक्षण: डॉ. मीणा के मुताबिक कोलाइटिस के मरीजों में सामान्य तौर पर तेज़ी से वजन कम होना, खूनी डायरिया, पेट दर्द और पेट में मरोड़े, रेक्टल पेन, स्टूल में खून या मल में खून, बार-बार बाथरूम जाने की तेज़ इच्छा, बहुत अधिक थकान, बुखार आदि के लक्षण पाए जाते हैं।

बचाव: डॉक्टर मीणा के अनुसार व्यक्ति को तनाव मुक्त लाइफस्टाइल जीना चाहिए, फास्ट फूड और आउटसाइड फूड से दूरी बनानी चाहिए, तरल पदार्थ का अधिक सेवन करना चाहिए, वक्त पर भोजन करें और हाई फाइबर डाइट लेने से कोलाइटिस जैसी गंभीर बीमारी से बचा जा सकता है। साथ ही उन्होंने कहा कोलाइटिस से संबंधी लक्षण पाए जाने पर तुरंत अपने डॉक्टर से परामर्श के बाद दवाई और सलाह अनुसार दिनचर्या और डाइट में बदलाव करें।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट