ताज़ा खबर
 

इन घरेलू उपायों को अपनाकर मच्छरों से पा सकते हैं छुटकारा

मच्छरों के काटने से कई बीमारियां फैलती हैं। कुछ घरेलू उपायों का प्रयोग कर इन बीमारियों से बच सकते हैं।

यह प्रतीक के तौर पर लिया गया चित्र है

गर्मी आने से घर में मच्छरों की संख्या बढ़ने लगती है। कई बार बाजार में मौजूद केमिकल वाले स्प्रे भी काम नहीं आते। बारिश के मौसम में तो यह कई बीमारियां फैलाते हैं। मच्छरों की वजह से कई घातक बीमारियां भी फैल जाती हैं। मच्छरों को मारने के लिए जहां सरकार मोहल्लों और रिहायशी इलाकों में स्प्रे वगैरहा करवाती है, वहीं हम खुद भी कुछ घरेलू उपाय अपनाकर इनसे छुटकारा पा सकते हैं। आज हम आपको बता रहे हैं, कुछ ऐसे ही घरेलू उपाय, जिन्हें अपनाकर आप मच्छर भगा सकते हैं।

नीम का तेल- नीम कई मायनों में लाभदायक होता है। यह एक मच्छर नाशक भी है, इसके साथ नारियल तेल मिला कर शरीर पर रगड़ने से आठ घंटे तक मच्छरों से बचा जा सकता है। यह तेल शरीर पर एक ऐसी गंध छोड़ता है जो मच्छरों को दूर रखती है।

कपूर- यह एक नेचुरल उपाय है जिससे मच्छरों से बचा जा सकता है। कमरे में कपूर जलाएं और सभी दरवाजे बंद कर दें। थोड़ी ही देर में मच्छरों से छुटकारा मिल जायेगा।

तुलसी- एक रिसर्च के अनुसार तुलसी मच्छर के लार्वा को मारने में सबसे तेज काम करती है। मच्छरों के घर में प्रवेश को रोकने के लिए खिड़की और दरवाजे के पास एक तुलसी का पौधा रख सकते हैं।

लहसुन- यह एक बदबूदार पर कामगार तरीका है। इसकी तीखी गंध मच्छर को घर में घुसने से रोकती है। लहसुन का स्प्रे बनाकर आप शाम के समय घर में छिड़क दें इससे मच्छर घर में नहीं आयेंगे।

पुदीना- पुदीने की पत्तियों के रस का छिड़काव करने से मच्छर दूर भागते हैं। इसे शरीर पर लगाने से बदबू भी नहीं आती।

नींबू और नीलगिरी का तेल- अगर आपका मच्छर भगाने वाला स्प्रे खत्म हो गया है तो उसमें नींबू का रस और नीलगिरी का तेल भरकर छिड़काव करें और साथ ही इस रस को आप शरीर पर भी लगा सकते हैं।

लैवेंडर- यह सिर्फ एक खुशबूदार ही नहीं, एक शानदार तरीका भी है मच्छरों से बचने का। इस फूल की खुशबू अक्सर मच्छरों के लिए बहुत तेज़ होती है और वो काट नहीं पाते। इसके लिए लैवेंडर के तेल को एक कमरे में नेचुरल फ्रेशनर के रूप में छिड़कें या अपनी क्रीम में मिक्स करके शरीर पर भी लगा सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App