ताज़ा खबर
 

एंटी-बायोटिक्स छोड़िए, लगातार बह रही है नाक तो आजमाइए ये 5 फूड्स

एंटी-बायोटिक्स का बार-बार इस्तेमाल सेहत के लिए सही नहीं होता। ऐसे में सर्दी जैसी बीमारियों का ज्यादा से ज्यादा प्राकृतिक तरीके से उपचार की कोशिश करनी चाहिए।
प्रतीकात्मक चित्र

मौसम बदलते ही सर्दी-जुकाम होने का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में बहुत से लोग नाक पोछते दिखाई देने लगते हैं। बहती नाक बदलते मौसम के दौरान एक आम समस्या है। ऐसे में लोग इससे छुटकारा पाने के लिए एंटी-बायोटिक्स का सहारा लेने लगते हैं। जबकि यह कुछ फूड्स को डाइट में शामिल कर प्राकृतिक तरीके से आसानी से ठीक किया जा सकता है। एंटी-बायोटिक्स आदि का बार-बार इस्तेमाल सेहत के लिए सही नहीं होता। ऐसे में ज्यादा से ज्यादा प्राकृतिक तरीके से बीमारियों के उपचार की कोशिश करनी चाहिए। आज हम आपको 5 ऐसे फूड्स के बारे में बताने वाले हैं जिनका सेवन करने से आप बहती नाक और जुकाम आदि से जल्दी निजात पा सकते हैं।

ग्रीन टी – ग्रीन टी में फ्लेवोनॉयड्स भरपूर मात्रा में पाया जाता है। यह एंटी-इन्फ्लेमेट्री गुणों से भी भरपूर होता है। यह रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मददगार होता है। इसके अलावा यह शरीर को अंदर से गर्म रखता है। एक कप ग्रीन टी बहती नाक से राहत दिलाने में बेहद फायदेमंद है।

विटामिन सी – विटामिन सी से भरपूर फल खाने से इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। इससे सर्दी-जुकाम होने की संभावना कम हो जाती है। इसके लिए पपीता, संतरा, स्ट्रॉबेरी और तरबूज का सेवन करना चाहिए।

शहद – शहद में एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। यह कई तरह की बीमारियों को दूर रखने में मददगार होता है। बहती नाक से निजात पाने के लिए गर्म दूध या पानी के साथ शहद का सेवन करें।

ब्लूबेरी – ब्लूबेरी में सबसे ज्यादा सक्रिय एंटी-ऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं। यह इम्यून सिस्टम को दुरुस्त रखने का काम करते हैं। इसके लिए आप अपने नाश्ते में ब्लूबेरी को शामिल कर सकते हैं।

लहसुन और प्याज – प्याज और लहसुन एंटी-बैक्टीरियल प्रॉपर्टी से भरपूर होता है और फ्लू के लक्षणों से लड़ने में मददगार होता है। आप दोनों का सूप बनाकर सेवन कर सकते हैं। बहती नाक के लिए यह काफी असरदार नुस्खा है।


Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.