ताज़ा खबर
 

अगर आज छोड़ेंगे स्मोकिंग तो बीस साल बाद ऐसी हो जाएगी आपकी सेहत

स्मोकिंग छोड़ने के एक दिन बाद आपको दिल की बीमारी होने का खतरा पचास प्रतिशत तक कम हो जाएगा।

Author January 23, 2018 8:12 PM
प्रतीकात्मक चित्र

स्मोकिंग की लत लगाना जितना आसान है उसे छोड़ पाना उतना ही कठिन है। स्मोकिंग करने वाले लोग अक्सर इसे छोड़ने की कोशिश में लगे रहते हैं लेकिन सफल नहीं हो पाते। स्मोकिंग छोड़ना निश्चित रूप से हमें कई तरह के लाभ दिलाने वाला साबित होता है। इससे हम कई तरह के कैंसर को होने से रोकने में सफल होते हैं। सिगरेट छोड़ने के बाद हमारे शरीर में कई तरह के विदड्रॉल सिंप्टम्स दिखाई पड़ते हैं। आज हम आपको ऐसे ही कुछ लक्षणों और उन प्रभावों के बारे में आपको बताने वाले हैं जो स्मोकिंग छोड़ने के बाद वक्त-वक्त पर आपके शरीर में दिखाई पड़ते हैं।

बीस मिनट बाद – आपके शरीर का ब्लड प्रेशर और पल्स रेट सामान्य हो जाएगा, और आपका शरीर सामान्य तापमान पर आ जाएगी।

8 घंटे बाद – आपके खून में निकोटिन और कार्बन मोनो ऑक्साइड की मात्रा आधी हो जाएगी और ऑक्सीजन का स्तर सामान्य हो जाएगा। इसके अलावा यही वो वक्त होगा जब आपको और ज्यादा निकोटिन लेने की इच्छा होने लगेगी। ऐसे में च्यूइंग गम चबाकर या पानी पीकर आप इस ललक से निजात पा सकते हैं।

एक दिन बाद – स्मोकिंग छोड़ने के एक दिन बाद आपको दिल की बीमारी होने का खतरा पचास प्रतिशत तक कम हो जाएगा। इसके अलावा आपका ब्लड प्रेशर सामान्य स्तर पर आ जाएगा और इससे होने वाले दिल संबंधी बीमारी का खतरा भी कम हो जाएगा। ऐसे में आपके लिए शारीरिक व्यायाम करना भी आसान हो जाएगा।

दो दिन बाद – स्मोकिंग आपके सूंघने और स्वाद लेने की क्षमता को प्रभावित करती है। ऐसे में जब आप दो दिन तक स्मोक नहीं करेंगे तब आपकी सूंघने और स्वाद लेने की शक्ति सामान्य स्तर पर आ जाएगी। इसके अलावा आपके रक्त से विषाक्त तत्व बाहर हो जाएंगे और फेफड़े सिगरेट वाले म्यूकस से मुक्त हो जाएंगे। इस वक्त आप चक्कर आने, चिंता और थकान जैसा महसूस करेंगे।

9 महीने बाद – आपके फेफड़े पूरी तरह से स्वस्थ होंगे और आपको लंग इन्फेक्शन होने का खतरा भी काफी कम हो जाएगा।

एक साल बाद – एक साल बाद आपको कोरोनरी हार्ट डिसीज होने का खतरा तकरीबन आधा हो जाएगा।

बीस साल बाद – स्मोकिंग छोड़ने के बीस साल बाद आपको स्मोकिंग की वजह से होने वाली बीमारियों से कोई खतरा नहीं रहेगा। फेफड़ों की बीमारियां, कैंसर, पैंक्रियाटिक कैंसर आदि की संभावना बिल्कुल ही कम हो जाती है। ऐसे में सेहत की दृष्टि से आपकी स्थिति ऐसी हो जाती है जैसे आपने कभी स्मोक किया ही न हो।


Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App