ताज़ा खबर
 

ट्यूमर को बढ़ने से रोकती है अजवाइन की चाय, दिल की सेहत के लिए भी है फायदेमंद, जानें और फायदे

जवाइन बहुत पुराने समय से हर घर में खाना बनाने के लिए इस्तेमाल होता आया है। सेहत संबंधी अनेक फायदों से भरपूर अजवाइन की चाय एंटी-ऑक्सीडेंट्स का बेहतरीन स्रोत होती है।

प्रतीकात्मक चित्र

आपने अब तक कई तरह की चाय के बारे में सुना होगा। नींबू वाली चाय, कैमोमाइल की चाय, अदरक वाली चाय आदि से होने वाले फायदों के बारे में भी आप जानते होंगे। आज हम आपको एक ऐसी चाय और उसके फायदों के बारे में बताने वाले हैं जिसके बारे लोग कम ही जानते हैं। थाइम टी यानी कि अजवाइन की चाय। अजवाइन बहुत पुराने समय से हर घर में खाना बनाने के लिए इस्तेमाल होता आया है। सेहत संबंधी अनेक फायदों से भरपूर अजवाइन की चाय एंटी-ऑक्सीडेंट्स का बेहतरीन स्रोत होती है। इसे बनाने के लिए दो कप पानी लीजिए और उसमें थोड़ा सा अजवाइन डालकर 15 मिनट तक उबालिए। फिर इसमें से पानी को छानकर अलग कर लीजिए।

अजवाइन की चाय के फायदे –

अस्थमा के लिए – अजवाइन की चाय के धुएं में सांस लेने से ही नाक का रास्ता साफ होता है और शहद की मिठास के साथ अजवाइन की चाय बनाकर गर्मागर्म पीने से अस्थमा अटैक में तुरंत लाभ मिलता है। इसका नियमित सेवन करना रोगी के लिए फायदेमंद होता है।

महिलाओं के लिए – महिलाओं के लिए अजवाइन की चाय बेहद लाभकारी है। यह पीरियड्स की वजह से होने वाले दर्द से आराम पहुंचाता है और गर्भाशय में रक्त प्रवाह को बढ़ाने का काम करता है। इसके अलावा यह वेजिनल यीस्ट इन्फेक्शन के उपचचार में भी काम आता है।

दिल और दिमाग के लिए – अजवाइन की चाय में ओमेगा 3 फैटी एसिड काफी मात्रा में पाया जाता है। यह दिल और दिमाग दोनों के स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता है। यह शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल के लेवल को घटाता है और दिमाग को महत्वपूर्ण पोषक तत्वों की आपूर्ति करता है। अजवाइन की चाय में दिमाग के ट्यूमर को रोकने की भी क्षमता होती है।

वजन कम करने में – अजवाइन की चाय फाइबर का बेहतरीन स्त्रोत मानी जाती है। फाइबर शरीर में फैट की मात्रा को नियंत्रित रखने में मदद करता है। इस वजह से इसके सेवन से वजन नियंत्रण में रहता है।

पाचन के लिए – पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने में भी अजवाइन की चाय एक बेजोड़ उपाय है। इसमें पाया जाने वाला तेल पाचन प्रणाली को स्वस्थ रखता है। हर सुबह 1 कप अजवाइन की चाय पीना बेहद फायदेमंद है।


Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App