ताज़ा खबर
 

डिब्‍बाबंद मीट सेहत के लिए नहीं है ठीक, जान लीजिए शरीर पर होता है कैसा प्रभाव

डिब्‍बाबंद मीट वह मांस है जिसे नमक लगाकर, सॉल्टिंग, ड्राइंग, कैनिंग या स्मोकिंग द्वारा स्टोर किया जाता है।

Author नई दिल्ली | November 26, 2018 5:51 PM
डिब्‍बाबंद मीट उत्पादों में सोडियम की मात्रा बहुत अधिक होती है।

समय की कमी के कारण कई बार हम पैक्ड और डिब्‍बाबंद खाद्य पदार्थ खाते हैं। हालांकि ये खाद्य पदार्थ हमारी सेहत को बुरी तरह प्रभावित करते हैं। इन खाद्य पदार्थों में केमिकल की उच्च मात्रा होती है और पोषक तत्व बहुत ही कम होते हैं। ऐसे में आप कई बीमारियों का शिकार हो सकते हैं। इसलिए इन खाद्य पदार्थों का सेवन आपको नहीं करना चाहिए। खासतौर पर डिब्‍बाबंद मीट सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है और इसके सेवन से कई गंभीर बीमारियां होने का खतरा रहता है। आइए जानते हैं डिब्‍बाबंद मीट सेहत के क्यों है खराब।

डिब्‍बाबंद मीट क्या है
डिब्‍बाबंद मीट वह मांस है जिसे नमक लगाकर, सॉल्टिंग, ड्राइंग, कैनिंग या स्मोकिंग द्वारा स्टोर किया जाता है। इसके अलावा जो मीट मैकेनिकल प्रोसेसिंग से गुजरता है या जिसे फ्रोज़न किया जाता है, उसे भी डिब्‍बाबंद मीट कहा जाता है।

डिब्‍बाबंद मीट का स्वास्थ्य पर प्रभाव
डिब्‍बाबंद मीट के सेवन को स्वास्थ्य के लिए हानिकारक माना जाता है। स्वास्थ्य को लेकर सचेत रहने वाले लोग अक्सर इसका सेवन ना करने की सलाह देते हैं। शोध में पाया गया है कि जो लोग डिब्‍बाबंद मीट का सेवन करते हैं उनकी जीवनशैली अस्वस्थ होती हैं और वो स्वस्थ आहार जैसे फल और सब्जियां कम खाते हैं। साथ ही ऐसे लोगों में धूम्रपान करने की आदत भी अधिक देखी गई है।

डिब्‍बाबंद मीट से होने वाली स्वास्थ्य समस्याएं
जो लोग डिब्‍बाबंद मीट का सेवन करते हैं उन्हें कई गंभीर बीमारियां होने की संभावनाएं अधिक होती हैं। इनमें निम्न बीमारियां शामिल हैं

1. हाई ब्लड प्रेशर
2. हार्ड डिजीज
3. क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज(सीओपीडी)
4. पेट का कैंसर

डिब्‍बाबंद मीट उत्पादों में सोडियम की मात्रा बहुत अधिक होती है जिसे टेबल साल्ट भी कहा जाता है। सोडियम का इस्तेमाल मीट को प्रीजर्व करने के लिए किया जाता है। इसके कारण सोडियम की मात्रा बढ़ जाती है जिससे हाइपरटेंशन की समस्या हो सकती है।

हाइपरटेंशन दिल से जुड़ी बीमारियां का मुख्य कारण है।

इसके अलावा, डिब्‍बाबंद मीट में N-nitroso कंपाउंड की मात्रा भी अधिक होती है। यह तत्व कैंसर सेल्स के विकास को बढ़ाता है। ये सेल्स कई प्रकार के कैंसर के लिए जिम्मेदार हो सकती हैं।

processed meat, Processed meat and cancer, health problems, heart disease, cancer, health tips, health news, latest news, hindi news, jansatta

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App