ताज़ा खबर
 

कमजोरी या थकान ही नहीं, ये लक्षण भी बताते हैं शरीर में पोटेशियम की कमी, हो जाएं अलर्ट

Symptoms of Potassium Deficiency: पोटेशियम शरीर के लिए जरूरी होता है। यदि शरीर में पोटेशियम की कमी हो जाती है तो आपको कई प्रकार की समस्याएं होने लगती हैं। आपको उन समस्याओं से अवगत होना आवश्यक है ताकि उनका निवारण निकाल सकें।

पोटेशियम के कमी के संकेत (Source: Dreamstime)

Symptoms of Potassium Deficiency: स्वस्थ और हेल्दी रहने के लिए आपको पोषक तत्वों वाले खाद्य पदार्थो का सेवन करना आवश्यक होता है। पोटेशियम एक बहुत महत्वपूरर्ण तत्व होता है। इनका सेवन आपके शरीर की मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करता है। पोटेशियम का सेवन करने के लिए आप फल, बीन्स, नट्स और सब्जियों का सेवन कर सकते हैं। कम पोटेशियम वाले खाद्य पदार्थो के सेवन से शरीर में पोटेशियम की कमी हो जाती है। शरीर में पोटेशियम की कमी के कारण कई स्वास्थ्य समस्याएं होती हैं, लेकिन कई लोगों को इनकी जानकारी नहीं होती हैं और इस वजह से वह इसका निवारण नहीं कर पाते हैं। इसलिए पोटेशियम की कमी के कारण कौन सी समस्याएं होती हैं उसका जानना आवश्यक होता है।

कमजोरी और थकावट:
शरीर में पोटेशियम की कमी के कारण कमजोरी और थकावट होने लगती है। पोटेशियम की कमी इन्सुलिन के उत्पादन को बढ़ाता है जिससे हाई ब्लड शुगर की समस्या हो सकती है जिससे कमजोरी और थकावट महसूस होने लगता है।

मासंपेशियों में ऐंठन:
पोटेशियम की कमी के कारण मसल्स में संकुचन होता है जिससे मांसपेशियों को ऐंठन की समस्या होने लगती है। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए पोटेशियम युक्त खाद्य पदार्थो का सेवन करना आवश्यक होता है।

पेट से जुड़ी समस्या:
पोटेशियम की कमी के कारण पेट फुलना या कब्ज जैसी समस्या होने लगती है क्योंकि यह डाइजेस्टिव सिस्टम में खाने की गति को धीमा कर देता है। इसके अलावा यह डाइजेस्टिव सिस्टम को भी कमजोर कर देता है।

हाथ और पैर सुन्न हो जाना:
शरीर में पोटेशियम की कमी के कारण नर्व सिगनल कमजोर हो जाता है जिससे कारण हाथ, पैर सुन्न हो जाता है और सही तरीके से काम करना बंद कर देता है। यदि आप ऐसा अक्सर महसूस कर रहे हैं तो डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

सांस लेने में परेशानी होना:
पोटेशियम फेफड़ों को एक्सपैंड और कॉन्ट्रैक्ट करता है, तो यदि शरीर में पोटेशियम की कमी होती है तो सांस लेने में समस्या महसूस होने लगती है। इसका मतलब यह है कि आपके फेफड़ों को पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिल पा रहा है।

(और Health News  पढ़ें)

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App