ताज़ा खबर
 

दिल की बीमारी से बचाता है अनार का छिलका, जानें और क्या हैं फायदे

अनार न सिर्फ खाने में स्वादिष्ट होते हैं बल्कि इसमें अनेक ऐसे गुण होते हैं जिसकी वजह से यह अच्छी सेहत की इच्छा रखने वाले लोगों के लिए प्रमुख आवश्यकता बन जाते हैं।

अनार जितना फायदेमंद होता है, इसके छिलके भी उतने ही गुणकारी होते हैं।

अनार न सिर्फ खाने में स्वादिष्ट होते हैं बल्कि इसमें अनेक ऐसे गुण होते हैं जिसकी वजह से यह अच्छी सेहत की इच्छा रखने वाले लोगों के लिए प्रमुख आवश्यकता बन जाते हैं। खून बढाने में, वजन घटाने में, चेहरे की झुर्रियां कम करने में, दिल की बीमारी में, कैंसर जैसे घातक रोगों में अनार के फायदे के बारे में हम सभी को पता है। लेकिन क्या आपको पता है कि अनार जितना फायदेमंद होता है, इसके छिलके भी उतने ही गुणकारी होते हैं। आज हम आपको अनार के छिलकों के उन गुणों के बारे में बताएंगे जिनको जानने के बाद आप उन्हें कभी फेंकने की गलती नहीं करेंगे।

अनार के छिलकों का प्रयोग करने के लिए सबसे पहले उसे सुखाकर उसका पाउडर बना लें। अब इसको किसी डिब्बे में भरकर रख लें। अनार का छिलका मुंह की बदबू दूर करने, खांसी और नकसीर में, मुंहासे, झुर्रियों के इलाज में और यहां तक दिल की बीमारियों से भी राहत दिलाने के लिए प्रयोग में लाया जाता है। अनार के छिलके में एंटीऑक्‍सीडेंट की काफी मात्रा होती है। यह दिल की बीमारी के लिए काफी लाभदायक होती है। इसके अलावा यह कोलेस्‍ट्रॉल के लेवल कम करने में भी इस्तेमाल किया जाता है। इसके इस्तेमाल के लिए 1 चम्‍मच अनार के छिलके का पावडर लेकर उसे गरम पानी में मिलाएं। इस घोल के रोजाना सेवन करने से दिल संबंधी रोगों में आपको काफी आराम मिलेगा।

अनार के छिलको चेहरे से कील-मुहांसे दूर करने के अचूक उपायों में शामिल हैं। इसके लिए सबसे पहले छिलकों को सुखाकर भून लें और ठंडा होने पर पीसकर चेहरे पर लगा लें। मुंहासों की समस्या से छुटकारा पाने का यह सर्वोत्तम उपाय है। अनार के छिलकों में एंटीबैक्‍टीरियल और एंटीइंफ्लेमेट्री गुण पाए जाते हैं। गरम पानी में अनार के छिलके का पाउडर मिलाकर नियमित सेवन करने से हड्डियां मजबूत होती हैं। इसके अलावा 10 ग्राम छिलके का पाउडर 100 ग्राम दही के साथ मिलाकर खाने से बवासीर ठीक हो जाती है। अनार छिलके का 5 ग्राम चूर्ण 0.10 ग्राम कपूर के साथ मिलाकर दो बार पानी में घोलकर पीने से खांसी भी पूरी तरह से ठीक हो जाती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App