ताज़ा खबर
 

Uric Acid को कम करने में रामबाण है जैतून का तेल, जानें- इस्तेमाल का तरीका

यूरिक एसिड कंट्रोल करने के लिए लोग अक्सर दवाइयों का सेवन करते हैं, लेकिन इनके कई साइड इफेक्ट्स भी होते हैं। इन दवाइयों को लेने के बजाय आप अपनी डाइट में जैतून के तेल को शामिल करें।

uric acid, uric acid diet, uric acid diet chart, uric acid diet chart in hindi, uric acid test, uric acid pain, uric acid levels, uric acid range, uric acid control, uric acid low, uric acid in hindi, uric acid test priceयूरिक एसिड को कम करने के लिए जैतून का तेल फायदेमंद होता है

दर्द और सूजन तब होती है जब यूरिक एसिड अधिक बढ़ जाता है और जोड़ों और आस-पास के ऊतकों में जमा हो जाता है, जिसके कारण गाउट की समस्या भी हो जाती है। यूरिक एसिड को कंट्रोल करना बेहत जरूरी होता है, वरना इससे आपको और भी कई स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। यूरिक एसिड कंट्रोल करने के लिए लोग अक्सर दवाइयों का सेवन करते हैं, लेकिन इनके कई साइड इफेक्ट्स भी होते हैं। इन दवाइयों को लेने के बजाय आप अपनी डाइट में जैतून के तेल को शामिल करें। यह ना सिर्फ आपके यूरिक एसिड को कंट्रोल करता है, बल्कि उसके लक्षणों को भी कम करता है। आइए जानते हैं इस्तेमाल करने का तरीका-

जैतून का तेल: जैतून के तेल में मौजूद पोषक तत्व यूरिक एसिड के लेवल को कंट्रोल करने में मदद करता है। इसके अलावा यह यूरिक एसिड के लक्षणों को भी कम करने में मदद करता है। जोड़ों के दर्द और सूजन को कम करने के लिए भी जैतून का तेल फायदेमंद होता है। नियमित रूप से अपने खाने को जैतून के तेल में बनाएं। यह आपके लिए फायदेमंद होगा। जैतूल के तेल में विटमिन ई काफी मात्रा में पाया जाता है, जो यूरिक एसिड के स्तर को कम करने में मददगार साबित होता है।

सेब का सिरका: यूरिक एसिड कंट्रोल करने के लिए सेब का सिरका भी फायदेमंद होता है। सेब के सिरके में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होता है जो यूरिक एसिड को कंट्रोल करता है और उसके लक्षणों को भी कम करने में मदद करता है। इसके अलावा सेब का सिरक शरीर में पीएच के स्तर को भी कम करता है।

गेहूं का ज्वार: रोजाना गेहूं के ज्वार में नींबू का रस मिलाकर पीने से भी यूरिक एसिड का लेवल कंट्रोल होता है। इसके अलावा यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के साथ-साथ यह शरीर में गाउट के कारण होने वाले सूजन और दर्द को भी कम करता है।

इसके अलावा जानिए यूरिक एसिड वाले क्या करें और क्या ना करें-

1. रोजाना नारियल पानी पिएं।
2. एलोवेरा के जूस में आंवले का जूस मिलाकर पिएं। यह काफी फायदेमंद होगा।
3. चुकंदर और गाजर का जूस शरीर के पीएच लेवल को कंट्रोल करता है जो यूरिक एसिड वालों के लिए फायदेमंद होता है।
4. कम फैट वाला दूध भी यूरिक एसिड के मरीजों के लिए फायदेमंद होता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 हर खांसी-जुकाम Coronavirus नहीं, जानें- सामान्य फ्लू और कोरोना वायरस में कैसे करें अंतर…
2 Coronavirus: भूलकर भी न खाएं ये दवा, हो सकता है बेहद खतरनाक
3 क्या वेजिटेरियन डाइट से कम हो सकता है स्ट्रोक का खतरा? नए रिसर्च में हुआ खुलासा
यह पढ़ा क्या?
X