ताज़ा खबर
 

लो ब्लड प्रेशर को हल्के में लेने की न करें भूल, जानें क्या हैं लक्षण और बचाव

Remedies for Low Blood Pressure: चक्कर आना, धुंधला दिखाई पड़ना, दुविधा की स्थिति बने रहना, शरीर ठंड़ा पड़ना और धड़कनों का कम ज्यादा होना निम्न रक्तचाप के लक्षण हैं

Low blood pressure, low bp, Low blood pressure diet chart in hindi, Low blood pressure reading, Low blood pressure symptoms, Low blood pressure precautions, Low blood pressure causes, Low blood pressure in pregnant women, Low blood pressure in heart patients, tips for heart patients, remedies for Low Blood Pressure, home remedies, Low blood pressure (hypotension), Low Blood Pressure Diagnosis & Treatment, Low Blood Pressure Diet, Low blood pressure medicine, Low blood pressure range, Low blood pressure reasons

Remedies for Low Blood Pressure: आज की इस भागदौड़ भरी और अनियमित जीवनशैली में हर कोई किसी न किसी तरह के तनाव से पीड़ित है। इस कारण रक्तचाप में असंतुलन की समस्या बेहद आम बन चुकी है। यदि आपके बीपी की रीडिंग 90 और 60 से कम है, तो आपको हाइपोटेंशन यानि कि लो ब्लड प्रेशर की समस्या है। चक्कर आना, धुंधला दिखाई पड़ना, दुविधा की स्थिति बने रहना, शरीर ठंड़ा पड़ना और धड़कनों का कम ज्यादा होना निम्न रक्तचाप के लक्षण हैं। नसों में रक्त का दबाव बढ़ने या घटने की वजह से हाई और लो ब्लड प्रेशर की समस्या होती है। अक्सर लोग हाई ब्लड प्रेशर को ही खतरनाक मानते हैं जबकि रक्तचाप लो हो या हाई दोनों ही आपके लिए नुकसानदेह हो सकता है। अगर आपको निम्न रक्तचाप की समस्या है तो घबराने की जरूरत नहीं है। आप कुछ घरेलू उपायों के जरिये इस समस्या को काबू कर सकते हैं।

लो ब्लड प्रेशर होने के ये हैं कारण: निम्न रक्तचाप के कई कारण हो सकते हैं। कई बार प्रेग्नेंट महिलाओं को लो ब्लड प्रेशर की शिकायत हो जाती है। वैसे तो प्रेग्नेंसी के दौरान ब्लड प्रेशर कम होना सामान्य बात है लेकिन अगर-अगर बार इस दिक्कत का सामना करना पड़ रहा हो तो डॉक्टर से जरूर संपर्क करें। इसके अलावा, दिल के रोगियों के शरीर में जब खून सही तरीके से सर्कुलेट नहीं हो पाता है तो लो ब्लड प्रेशर का खतरा होता है। वहीं, शरीर में पानी की कमी की वजह से लो ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है। साथ ही, शरीर में कुछ पोषक तत्वों की कमी होने पर भी निम्न रक्तचाप की परेशानी हो जाती है।

इन बातों का रखें ख्याल: ज्यादातर डॉक्टर बीपी कम होने पर नमक वाला पानी पीने की सलाह देते हैं, क्योंकि नमक में सोडियम होता है, जो रक्तचाप बढ़ाने में मदद करता है। लो ब्लड प्रेशर होने पर एक गिलास पानी में आधा चम्मच नमक डालकर पी सकते हैं। हालांकि, इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। वहीं, छाछ में नमक, भुना हुआ जीरा और हींग मिलाकर, इसका सेवन करते रहने से भी ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है। जब भी रक्तचाप कम महसूस हो तो तुरंत अपने बैठने की पोजीशन में बदलाव लाएं और दोनों पैरों को क्रॉस करके बैठें। एक पैर को दूसरे पैर के ऊपर रखकर बैठने से रक्तचाप तेजी से बढ़ता है। साथ ही अपनी मुट्ठी को भी लगातार खोलते और बंद करते रहें।

ये तरीके भी है फायदेमंद: अदरक को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर उसमें नींबू का रस और सेंधा नमक मिलाकर रख दें। अब इसे नियमित रूप से भोजन से पहले थोड़ी-थोड़ी मात्रा में खाते रहें। दिनभर में 3 से 4 बार भी इसका सेवन आप कर सकते हैं। लो ब्लड प्रेशर को नॉर्मल करने में चुकंदर भी फायदेमंद है। इसके अलावा, खजूर को दूध में उबालकर पीने से भी निम्न रक्तचाप की समस्या में लाभ होता है।

Next Stories
1 हाई यूरिक एसिड के मरीज अंगूर को जरूर करें अपनी डाइट में शामिल, जानिये कब खाना होगा फायदेमंद
2 दांत दर्द से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकता है लौंग, जानिए इसके अन्य फायदे
3 एसिडिटी की समस्या से हैं परेशान, हेल्थ एक्सपर्ट्स से जानें क्या खाना हो सकता है फायदेमंद
ये पढ़ा क्या?
X