ताज़ा खबर
 

डायबिटीज के मरीजों के लिए रामबाण है नीम, जानिये कैसे करें डाइट में शामिल…

डाइट में नीम को शामिल करना डायबिटीज को कंट्रोल करने में मदद कर सकता है। नीम में कई औषधिय गुण मौजूद होते हैं। आइए जानते हैं डायबिटीज के मरीज कैसे करें नीम को अपनी डाइट में शामिल..

neem for Diabetes patients, neem juice for diabetes, diabetes fruits, diabetes ayurvedic treatmentडायबिटीज के मरीजों के लिए नीम के फायदे-

डायबिटीज के मरीजों के लिए ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करना एक कठ‍िन काम है। शरीर में इन्सुलिन हार्मोन के स्रावण में कमी से डायबिटीज रोग होता है। यही वजह है क‍ि अक्सर डायबिटीज से पीडि‍त लोगों को डॉक्टर ब्लड शुगर लेवल चार्ट बनाने की सलाह देते हैं। डायबिटीज के रोगी को आंखों व किडनी के रोग, सुन्नपन आना जैसी समस्याएं हो सकती हैं। डायबिटीज के मरीजों को अपने खान-पान पर अधिक ध्यान देने की जरूरत होती है। खान-पान में बरती गई लापरवाही डायबिटीज को और भी अधिक बिगाड़ सकती है। ऐसे में अपनी डाइट में नीम को शामिल करना डायबिटीज को कंट्रोल करने में मदद कर सकता है। नीम में कई औषधिय गुण मौजूद होते हैं। आइए जानते हैं डायबिटीज के मरीज कैसे करें नीम को अपनी डाइट में शामिल…

डायबिटीज के मरीजों के लिए नीम: नीम की पत्तियां में ग्लाइकोसाइड्स और एंटी वायरल गुण उच्च मात्रा में मौजूद होते हैं जो आपके ब्लड शुगर लेवल को संतुलित करने में आपकी मदद करते हैं। इसके अलावा नीम शरीर में ग्लूकोज लेवल को मैनेज करती है। नीम को बीटा कोशिकाओं में इंसुलिन की संवेदनशीलता में सुधार करने के लिए भी जाना जाता है। इसका मतलब है कि शरीर ब्लड शुगर के स्तर में बढ़ावा देकर चीनी को पचाने में सक्षम है। इतना ही नहीं नीम डायबिटीज के कारण होने वाली अन्य स्वास्थ्य समस्याओं को भी दूर करने में मदद करता है।

कैसे करें नीम का सेवन: डायबिटीज के मरीजों को सुबह खाली पेट 6-7 नीम की पत्तियां खानी चाहिए इससे शुगर लेवल कम होता है। इसके अलावा पानी में पत्तों को उबाल कर पानी पिएं या पत्तों का रस निकालकर पिएं। इतना ही नहीं मेथीदाना पाउडर, जामुन के बीज का पाउडर, नीम पाउडर और करेला का पाउडर को मिलाकर एक हेल्दी काढ़ा बना सकते हैं। लंच और डिनर से आधे घंटे पहले इसका एक चम्मच पानी के साथ खाना डायबिटीज को कंट्रोल करता है।

डायबिटीज के मरीजों के लिए डाइट टिप्स:
– डायबिटीज के मरीजों को अपनी डाइट में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फैट सही मात्रा में शामिल करना चाहिए।
– दिन भर में 8-10 गिलास पानी। साथ में नारियल पानी, नींबू पानी, छाछ, दूध आदि भी फायदेमंद होता है।
– आम, केला और अंगूर जैसे फलों में चीनी ज्‍यादा होती है इन्‍हें कम खाना चाहिए।
– डायबिटीज होने पर आप नाश्ते में एवाकाडो के दो स्लाइस ले सकते हैं। इसके साथ ही साथ आप उबला अंडा भी ब्रेकफास्ट में शामिल कर सकते हैं।

Next Stories
1 इम्युनिटी के लिए लौंग और इलायची से बना ये काढ़ा है रामबाण, जानिये बनाने का तरीका
2 पेट में दाहिनी तरफ हो तेज दर्द तो हो सकता है अपेंडिक्स, जानिये इस बीमारी के लक्षण व बचाव के उपाय
3 एनीमिया से भी ज्यादा खतरनाक है अप्लास्टिक एनीमिया, जानिये- इसके लक्षण और बचाव के तरीके
ये पढ़ा क्या?
X