ताज़ा खबर
 

इन तरीकों से आप कर सकते हैं असली और नकली दूध की पहचान

अगर आपके सूंघने पर दूध में साबुन जैसी गंध आती है तो समझ लिजिए आपका दूध नकली है। इसमें मिलवाट की गई है। वहीं असली दूध में कभी कोई गंध नहीं आती।

इस फोटो का इस्तेमाल सांकेतिक तौर पर किया गया है।

दूध की मिलावट की कई बातें सामने आती हैं। दूध में अलग-अलग तरीके से मिलावट की जाती है। दूध में इस मिलावट को पता करना आसान नहीं होता। आज हम आपके लिए लाएं हैं मिलावटी दूध के बारें पता करने का तरीका। नकली दूध को आप इन तरीकों से पता लगा सकते हैं दूध नकली है या अलसी।अगर दूध में सिंथेटिक की मिलावट की गई है तो उसे सूंघ कर पता किया जा सकता है। अगर आपके सूंघने पर दूध में साबुन जैसी गंध आती है तो समझ लिजिए आपका दूध नकली है। इसमें मिलवाट की गई है। वहीं असली दूध में कभी कोई गंध नहीं आती।

दूध नकली है या असली है इसके लिए दूध की एक या दो बूंध को चिकनी लकड़ी या पत्थर की सतह पर टपकाकर देखिए। अगर दूध बहता हुआ नीचे आ जाता है और सफेद धार सा निशान बना लेता है तो समझ लें कि दूध असली है। अगर ऐसा नहीं है तो दूध नकली है।

दूध में मिलावट है या नहीं है इसे दूध को पिकर भी पता किया जा सकता है। अगर स्वाद में आपका दूध हल्का मीठा है तो समझ लिजिए ये दूध असली है वहीं नकली दूध में सोडा या डिटर्जेंट होने की वजह से कड़वा होता है।

जो असली दूध होता है वो कभी रंग नहीं बदलता। वहीं नकली दूध जल्द ही रंग बदल लेता है। दूध को स्टोर करने पर भी आप पता कर सकते हैं कि दूध नकली है या असली है। अगर दूध रंग बदल लेता है तो समध जाएये कि दूध में मिलावट की गई है।

दूध में पानी की मिलावट की गई है या नहीं इसका भी पता किया जा सकता है। दूध में मिलावट का पता करने के लिए उसे एक काली सतह पर छोड दें। अगर दूध में पानी की मिलावट है तो दूध के पीछे एक सफेद लकीर छोड़ता है। वहीं नकली दूध ऐसा कुछ नहीं कर पाता।

दूध की असलियत पता करने के लिए आप दूध को उबाल भी सकते हैं। अगर दूध के उबलने पर रंग बदलता है और ये दूध पीले रंग का हो जाता है तो ये दूध नकली है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App