तनाव से निपटने के लिए ये 7 तरीके हैं असरदार, देखें- क्या कहते हैं माधुरी दीक्षित के पति डॉ. नेने

डॉ श्रीराम नेने कहते है कि तनाव की वजह से पुरानी बीमारियां और इन्फ्लेमेटरी चेंज आ सकती हैं। उन्होंने सात ऐसे तरीके बताए हैं जिससे तनाव से बचा जा सकता है। 

stress, mental health, madhuri dixit
तनाव को कम करने के लिए अपना सोशल नेटवर्क मज़बूत करें (Photo-Getty/Indian Express)

भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाव, डिप्रेशन और एंजायटी लोगों को समय-समय पर होती रहती है, लेकिन कई बार खुद को संभालना मुश्किल हो जाता है। तनाव के कारण कई बार पुरानी बीमारियों के दोबारा शुरू होने का खतरा भी बढ़ जाता है। ऐसे में एहतियात रखना बेहद जरूरी होता है। बात तनाव की करें तो यह एक मानसिक रोग है। जब हमारी मनस्थिति और बाहरी परिस्थिति के बीच असंतुलन पैदा होता है तो हम तनाव से घिर जाते हैं। तनाव के कारण कई मनोविकार पैदा होते हैं। जिससे हमेशा मन अशांत, अस्थिर रहता है।

अभिनेत्री माधुरी दीक्षित के पति कार्डियोथोरेसिक सर्जन डॉ श्रीराम नेने ने हाल में ही YouTube पर एक वीडियो के माध्यम से तनाव से बचने के तरीकों के बारे में बताया है। डॉ श्रीराम नेने कहते है कि तनाव की वजह से पुरानी बीमारियां और इन्फ्लेमेटरी चेंज आ सकती हैं। उन्होंने सात ऐसे तरीके बताए हैं जिससे तनाव से बचा जा सकता है। 

तनाव से बचने के उपाय: 

* पर्याप्त नींद लेना- वयस्कों के लिए 7-9 घंटे की नींद जरूरी है जबकि बच्चों के लिए 10 घंटे या उससे ज्यादा की नींद लेनी चाहिए। नींद की कमी से स्ट्रेस हो सकता है इसलिए पर्याप्त नींद लें।

* रोजाना एक्सरसाइज करना- एक्सरसाइज करने से मूड अच्छा रहता है। 30 मिनट तक तेज चलना और व्यायाम करना शरीर के लिए फायदेमंद है क्योंकि यह एंडोर्फिन और डोपामाइन को रिलीज करता है। ये हार्मोन प्रेरणा देने और मानसिक एकाग्रता का काम करते है।

* लोगों के साथ उठना-बैठना- डॉ श्रीराम नेने बताते हैं कि सामाजिक स्तर पर समर्थन देने वाला नेटवर्क बनाएं और लोगों से नियमित रूप से बात करें। ये सोशल नेटवर्क आपको पुरानी बातें भूलने और मूवऑन करने में भी मदद करेगा। 

* प्राथमिकताओं को करें तय- उन कामों को ध्यान या प्रायरिटी ना दें जो ज्यादा जरूरी न हों। छोटे काम को पहले करें। इसमें आप में सेल्फ कॉन्फिडेंस आएगा। 

* सकारात्मक सोच- आपने अक्सर सुना होगा कि अच्छा सोचने से अच्छा ही होता है। आप जो भी एक दिन में हासिल करते हैं, उस सकारात्मकता के साथ स्वीकार करें। जो आप नहीं कर पाएं, उस पर ध्यान न दें।

* सांस लेते रहें- डॉ श्रीराम नेने कहते हैं कि पांच सेकंड के लिए एक गहरी सांस लें, इसे 5 सेकंड तक रोककर रखें और फिर सांस छोड़ें। साथ ही, माइंडफुलनेस और मेडिटेशन हृदय की गति को कम करने, फोकस को सुधारने और तनाव को कम करने के लिए असरदार हैं। 

* एक्सपर्ट से बात करें- अगर आप तनाव का सामना करने में असमर्थ हैं तो मेंटल हेल्थ प्रोफेशनल से बात करें। ऐसा करना हमेशा अच्छा होता है क्योंकि एक्सपर्ट आपको सही सलाह और ट्रीटमेंट दे पाएंगे। डॉक्टर कहते है कि तनाव से उबरने के लिए इन स्टेप्स को नियमित रूप से अभ्यास करना फायदेमंद रहेगा। 

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
पढ़े: क्या है हमारी लाइफ मे ‘VITAMIN B’ का महत्त्व
अपडेट