ताज़ा खबर
 

जानिए कब कराना चाहिए यूरिक एसिड टेस्ट, इन बातों का ध्यान रखना भी है जरूरी

यूरिक एसिड (Uric Acid) कंट्रोल में रखना बेहद जरूरी होता है। इसके लिए आपको समय-समय पर टेस्ट कराने की जरूरत है। आइए जानते हैं यूरिक एसिड का टेस्ट कब करवाना चाहिए-

Uric Acid, Uric Acid test, uric acid test name, uric acid levels, uric acid range, uric acid in hindi, uric acid increase, uric acid test price, uric acid control in hindi, uric acid diet, uric acid foodsयूरिक एसिड के लिए कब करवाएं टेस्ट

यूरिक एसिड बढ़ने के कारण शरीर के कई हिस्सों को नुकसान पहुंचता है। इसके अलावा यूरिक एसिड प्यूरिन नामक प्रोटीन के ब्रेकडाउन के कारण होता है। यदि जरूरत से ज्यादा यूरिक एसिड बढ़ जाता है तो वह गाउट की समस्या का कारण बन जाता है। ऐसे में कंट्रोल करना बहुत जरूरी होता है। गाउट होने पर जोड़ों में दर्द और सूजन की समस्या होने लगती है। इसके अलावा यूरिक एसिड कंट्रोल में रखना बेहद जरूरी होता है। इसके लिए आपको समय-समय पर टेस्ट कराने की जरूरत है। आइए जानते हैं यूरिक एसिड का टेस्ट कब करवाना चाहिए-

कब करवाएं यूरिक एसिड टेस्ट: यूरिक एसिड का टेस्ट हर 6 महीने पर करवाना चाहिए। इतना ही नहीं जैसे ही जोड़ों में दर्द महसूस हो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। कुछ मामलों में, आपका डॉक्टर आपको टेस्ट से पहले 4 या अधिक घंटों तक कुछ भी खाने या पीने के लिए नहीं कह सकता है। आपका डॉक्टर आपको यह भी बताएगा कि क्या आपको कोई दवा लेने से रोकने की आवश्यकता है।

अत्यधिक यूरिक एसिड का इलाज कैसे करें? यदि आपके ब्लड में यूरिक एसिड का उच्च स्तर है, तो यह समझना महत्वपूर्ण है कि निर्धारित दवाओं को लेने के अलावा और कैसे यूरिक एसिड के स्तर को कम किया जा सकता है-

1. अधिक मात्रा में पानी पीना चाहिए क्योंकि यह शरीर को हाइड्रेट रखता है और शरीर से यूरिक एसिड को बाहर निकालता है।

2. प्यूरिन वाला फूड्स जैसे पका हुआ प्रोडक्ट्स और रेड मीट आदि से बचना चाहिए क्योंकि ये शरीर में यूरिक एसिड के उत्पादन को बढ़ाता है।

3. कैफीन और शराब के सेवन को सीमित करना भी आवश्यक है, वरना इससे शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ जाएगी और इसके लक्षण भी बढ़ जाएंगें।

4. यूरिक एसिड को नियंत्रित करने में डाइट प्रमुख भूमिका निभाता है। उच्च फाइबर वाले फूड्स का सेवन यूरिक एसिड के लक्षणों को कम करने में मदद करता है। साथ ही जोड़ों के दर्द और सूजन से भी राहत दिलाता है।

5. शोध साबित करता है कि चीनी शरीर से यूरिक एसिड के उत्सर्जन में भी बाधा डालता है। इसलिए सेवन को सीमित करना आवश्यक है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 शराब नहीं, इन चीजों से भी हो सकती है फैटी लिवर की समस्या, ये हैं इस बीमारी के लक्षण
2 लॉकडाउन हटाने से पहले किन बातों का ध्यान रखना जरूरी, जानिये WHO ने क्या कहा…
3 यूरिक एसिड के मरीजों के लिए मखाना है फायदेमंद, जानिये कैसे करें इस्तेमाल
ये पढ़ा क्या?
X