ताज़ा खबर
 

सुस्ती से हैं परेशान तो अपना सकते हैं ये घरेलू उपाय, नहीं होता कोई साइड इफेक्ट

अगर आपका लाइफस्टाइस सामान्य है और अच्छी नींद के बावजूद सुस्ती महसूस करते हैं तो यह सामान्य बात नहीं है। यह डीहाईड्रेशन की वजह से भी हो सकती है। विटामिन B-12 और यूरिनरी इंफेक्शन की वजह से भी सुस्ती हो सकती है।

सांकेतिक तस्वीर।

गलत खानपान और जीवनशैली का बिगड़ना सुस्ती की बड़ी वजह है। इसके अलावा जरूरी नींद न लेने से भी आप सुस्ती महसूस कर सकते हैं। सुस्ती ऐसा दोष है जिससे मनुष्य अपने वर्तमान और भविष्य दोनों पर बुरा असर पड़ता है। अगर आपका लाइफस्टाइस सामान्य है और अच्छी नींद के बावजूद सुस्ती महसूस करते हैं तो यह सामान्य बात नहीं है। यह डीहाईड्रेशन की वजह से भी हो सकती है। विटामिन B-12 और यूरिनरी इंफेक्शन की वजह से भी सुस्ती हो सकती है। आइए आज हम आपको ऐसे टिप्स बता रहे हैं जिससे आप सुस्ती की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

योगा या एक्‍सरसाइज: जब आप नियमित रूप से एक्‍सरसाइज करते हैं तो आप खुद को अधिक ऊर्जावान महसूस करते है। इससे शरीर मजबूत, लचीला, सुडौल और स्वस्थ रहता है। रोजाना योगा करने से मानसिक तनाव दूर होता है, आत्मा और मन को शांति मिलती है। इसके अलावा सुबह टहलने निकलें, योग, प्राणायाम, शवासन या एक्सरसाइज करें। ऐसा करने से आप खुद को फ्रैश महसूस करेंगे।

भरपूर नींद लें: जो लोग अधिक थकान और सुस्ती से परेशान है, उन्हें भरपूर नींद की जरूरत होती है। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए अच्छी नींद लेना भी बेहद जरूरी होता है। करीब 7 से 8 घंटे नींद लेने से तनाव से छुटकारा मिलेगा, श्वसनक्रिया ठीक होगी और आप पूरा दिन फ्रैश महसूस करेंगे।

कॉफी के ज्यादा सेवन से बचें: अकसर लोग फ्रेश फील करने के लिए कॉफी पीते हैं लेकिन ज्यादा कॉफी पीने की आदत आपको सुस्ती की तरफ ले जाती है। कॉफी में मौजूद कैफीन की मात्रा शरीर में ज्यादा होने से भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है।

हल्‍का भोजन करें: फैट, शुगर और कार्बोहाइड्रेट से भरपूर भोजन से आपको आलस महसूस होता है। इसके अलावा आपको ग्लाइसेमिक खाद्य पदार्थों से भी दूर रहना चाहिए क्‍योंकि यह ब्लड शुगर के बढ़ने के साथ आपमें अस्‍थायी ऊर्जा को बढ़ावा देता है। ऐसी ऊर्जा कुछ मिनट में दूर होकर आपको सुस्ती महसूस करा सकती है। संतुलित और पौष्टिक भोजन आपके शरीर में स्फूर्ति लाता है। ऐसे भोजन में हरी सब्ज़ियाँ, दालें, दही और मौसमी फलों को शामिल करें, साथ ही भोजन में विटामिन की मात्रा बढ़ा दें।

खूब पानी पीएं: अगर आप कम पानी पीते हैं तो ये भी आपकी सुस्ती का कारण बन सकता है। वहीं डीहाईड्रेशन यानी शरीर में पानी की कमी का असर होने पर शरीर सुस्त पड़ जाता है और थकान महसूस होने लगती है। जिससे किसी काम में मन नहीं लगता है। इस समस्या से बचने के लिए आप हर्बल टी, नारियल पानी, या फलों का जूस ले सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App