ताज़ा खबर
 

इन पांच लक्षणों से लगा सकते हैं साइबर सेक्स एडिक्शन का पता, युवाओं में तेजी से बढ़ रही ये समस्या

इंटरनेट सेक्स एडिक्ट व्यक्ति को अपने किए का अपराधबोध हमेशा रहता है लेकिन वह उससे पूरी तरह से छुटकारा नहीं पा सकता।

इंटरनेट सेक्स एडिक्ट लोग हमेशा सेक्सुअल कंटेंट देखने के आदी होते हैं।

इंटरनेट आधुनिक युग की जीवनशैली की अभिन्न आवश्यकता बन गई है। इसके अगर तमाम फायदे हैं तो कुछ नुकसान भी हैं। इंटरनेट सेक्स एडिक्ट होना इसी तरह का एक नुकसान है जो भारी मात्रा में युवाओं को अपनी चपेट में ले रहा है। यह एडिक्शन उनके दिमाग और शरीर पर बहुत बुरा असर डालता है। इंटरनेट सेक्स एडिक्शन की चपेट में आए लोगों का अधिकांश कीमती वक्त इंटरनेट पर ही बीतने लगता है। ऐसे लोग इंटरनेट पर हमेशा अश्लील सामग्रियों को देखने के आदी हो जाते हैं और ऐसे में वो अपना महत्वपूर्ण समय इन कामों में बर्बाद कर देते हैं। इससे उनका सामाजिक और पारिवारिक जीवन तो प्रभावित होता ही है, साथ ही साथ उनकी शारीरिक और मानसिक क्षमता पर भी इसका बुरा असर पड़ता है। आज हम आपको इंटरनेट सेक्स एडिक्शन के कुछ लक्षणों के बारे में बताने वाले हैं।

1. इंटरनेट सेक्स एडिक्ट लोग हमेशा सेक्सुअल कंटेंट देखने के आदी होते हैं। ऐसे में अगर उन्हें किसी कारण से यह उपलब्ध नहीं हो पाता तो वह बेचैनी और चिड़चिड़ापन महसूस करते हैं और तभी सामान्य महसूस करते हैं जब उन्हें फिर से सेक्शुअल कंटेंट उपलब्ध करवाया जाए।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 7 32 GB Black
    ₹ 41999 MRP ₹ 52370 -20%
    ₹6000 Cashback
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16699 MRP ₹ 16999 -2%
    ₹0 Cashback

2. साइबर सेक्स एडिक्ट लोग हमेशा अपने आप को असंतुष्ट महसूस करते हैं। वे आभासी संबंधों के साथ अपने वास्तविक जीवन की तुलना कर दुखी होते हैं। उनके दिमाग में हमेशा सेक्स से संबंधित बातें ही रहती हैं।

3. ऐसे लोगों में खुद के पकड़े जाने का डर भी होता है, जिसकी वजह से वह हर उस व्यक्ति के साथ असामान्य व्यवहार करते हैं जो इनके इंटरनेट के ज्यादा इस्तेमाल पर सवाल करता है।

4. इंटरनेट सेक्स एडिक्ट व्यक्ति को अपने किए का अपराधबोध हमेशा रहता है लेकिन वह उससे पूरी तरह से छुटकारा नहीं पा सकता। वह अपनी इच्छाशक्ति को नियंत्रित नहीं कर पाते और बार-बार इन आदतों को बदलने का खुद से वादा करके भी बदल नहीं पाते हैं।

5. ऐसे लोग अकेलेपन का भी शिकार आसानी से हो जाते हैं। इंटरनेट पर ज्यादा समय बिताने के चक्कर में वह अपने परिवार तथा दोस्तों से दूर होने लगते हैं। ऐसे में इंटरनेट ही उनका अकेला साथी हो जाता है और वह इस एडिक्शन में और गहरा फंसते चले जाते हैं। वह अपने यौन विचारों को इंटरनेट पर ही शेयर करते हैं।


Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App