scorecardresearch

Uric Acid: यूरिक एसिड बढ़ने से हो सकती हैं बॉडी में ये 5 परेशानियां, जानिए कैसे करें बढ़े हुए एसिड को कंट्रोल

मोटापा, तनाव और आनुवंशिक कारणों की वजह से यूरिक एसिड का स्तर बढ़ सकता है।

uric acid cause, uric acid symptoms, uric acid stone
यूरिक एसिड को कंट्रोल करना चाहते हैं तो डाइट में प्यूरीन युक्त खाद्य पदार्थों का सीमित सेवन करें। photo-freepik

यूरिक एसिड का बढ़ना कई बीमारियों को दावत दे सकता है। प्यूरिन से भरपूर फूड का अधिक सेवन करने से यूरिक एसिड का स्तर तेजी से बढ़ सकता है। यूरिक एसिड का बनना परेशानी की बात नहीं है लेकिन उसका बॉडी से बाहर नहीं निकलना बॉडी को बीमार बना देता है। यूरिक एसिड हम सभी की बॉडी में बनता है और किडनी इसे फिल्टर करके यूरिन के जरिए बॉडी से बाहर भी निकाल देती है। यूरिक एसिड प्यूरिन से भरपूर फूड का अधिक सेवन करने से बढ़ सकता है।

यूरिक एसिड एक रसायन है जो शरीर में प्यूरीन नामक पदार्थों के टूटने से बनता है। कुछ खास फूड्स और ड्रिंक का सेवन करने से बॉडी में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ने लगता है। वैसे तो अधिकांश यूरिक एसिड ब्लड में घुल जाते है और किडनी इन्हें फिल्टर करके बॉडी से बाहर भी निकाल देती है। अगर किडनी यूरिक एसिड को फिल्टर करके बाहर नहीं निकाल पाती तो ये क्रिस्टल के रूप में जोड़ों में जमा होने लगते हैं और गाउट का कारण बनते हैं।

बढ़ता वजन, मोटापा, तनाव और आनुवंशिक कारणों की वजह से यूरिक एसिड का स्तर बढ़ सकता है। यूरिक एसिड बढ़ने पर बॉडी में कई तरह की परेशानियां पैदा होने लगती है। आइए जानते हैं कि यूरिक एसिड बढ़ने से कौन-कौन सी परेशानियां होती है और उसका उपचार कैसे करें।

यूरिक एसिड बढ़ने पर बॉडी में होने वाली परेशानियां।

  • जोड़ों में दर्द होना,
  • किडनी की परेशानी हो सकती है,
  • हाथ-पैर की उंगलियों में सूजन और दर्द होना,
  • हाई ब्लड प्रेशर का खतरा,
  • यूरिक एसिड स्टोन की समस्या,
  • पीठ के निचले हिस्से के दोनों ओर तेज दर्द,
  • यूरीन से बदबू आना जैसे लक्षण दिखाई दे सकते हैं।

यूरिक एसिड कंट्रोल करने के उपाय

  • यूरिक एसिड को कंट्रोल करना चाहते हैं तो डाइट में प्यूरीन युक्त खाद्य पदार्थों का सीमित सेवन करें।
  • मीठे से परहेज करें। मीठी चीजों का सेवन तेजी से यूरिक एसिड को बढ़ा सकता है।
  • शराब का सेवन करने से यूरिक एसिड का स्तर तेजी से बढ़ता है उससे परहेज करें।
  • वजन कम करें। बढ़ता वजन यूरिक एसिड का स्तर बढ़ा सकता है।
  • इंसुलिन के स्तर को संतुलित करें
  • डाइट में फाइबर से भरपूर फूड को शामिल करें।
  • तनाव कम करें। बढ़ता तनाव कई बीमारियों को जन्म दे सकता है।

पढें हेल्थ (Healthhindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.