ताज़ा खबर
 

मांसपेशियों में सूजन हो या दर्द, इन तरीकों से पाएं छुटकारा

सूजन से बचने के लिए जरूरी है कि शरीर के सभी अंगों को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन की आपूर्ति होती रहे। इसके लिए ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पीने की जरूरत होती है।

Home remedies, swelling, swelling treatment in hindi, swelling treatment home remedies in hindi, how to reduce body swelling, cause of swelling, home remedies for swelling in hindi, home remedies for sore in hindi, treatment of sores, health news, health news in hindi, jansattaअंदरूनी घाव की वजह से भी एडेमा यानी कि सूजन की समस्या हो सकती है।

मांसपेशियों में सूजन के कई कारण हो सकते हैं। कभी खेलते हुए चोट लग जाना, किसी दुर्घटना का शिकार हो जाना, तनाव, चिंता आदि कारणों से मांसपेशियों में सूजन व दर्द की शिकायत होती है। अंदरूनी घाव की वजह से भी एडेमा यानी कि सूजन की समस्या हो सकती है। इन सबके अलावा भी सूजन के कई कारण होते हैं। जैसे, असंतुलित आहार के सेवन की वजह से, कीड़े के काटने से आदि। सूजन से बचने के लिए जरूरी है कि शरीर के सभी अंगों को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन की आपूर्ति होती रहे। इसके लिए ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पीने की जरूरत होती है। इससे शरीर में पानी के माध्यम से पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन पहुंचता है। इसके अलावा भी की तरह के उपाय सूजन से निजात पाने के लिए अपनाए जा सकते हैं। आज हम उन्हीं उपायों के बारे में बात करने वाले हैं।

मालिश करने से – तेल से मांसपेशियों पर मालिश करने से रक्त का परिसंचरण बढ़ जाता है। इससे मांसपेशियों को काफी गर्माहट मिलती है। कई प्रकार के तेल जैसे पाइन, लैवेंडर, अदरक और पिपरमेंट से मालिश करने पर मांसपेशियों का दर्द कम होता है और सूजन भी गायब हो जाती है।

हीट थेरेपी – गंभीर चोटों में हीट थेरपी के इस्तेमाल से सूजन आदि को दूर करने में सहायता मिलती है। मांसपेशियों को गर्मी मिलने से दर्द में आराम मिलता है, साथ ही साथ मांसपेशियों की जकड़न भी कम होती है। छोटे-मोटे घावों में हीट थेरेपी करने से बचें। यह आपके सूजन को और बढ़ा सकता है।

लाल मिर्च के प्रयोग से – लाल मिर्च में कैप्सैसिन होता है जो ऑर्थराइटिस, जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द में आराम पहुंचाता है। आप इसका पेस्ट बनाकर दर्द वाली जगह स्वयं लगा सकते हैं। पेस्ट बनाने के लिये आधा टेबल स्पून लाल मिर्च को जैतून के तेल (गुनगुना) या नारियल के तेल में मिलाएं और प्रभावित स्थान पर लगायें और दो मिनट के बाद धो डालें।

नमक पानी से – अगर आपके हाथों या फिर पैर में सूजन है तो इसके लिए आप नमक पानी का इस्तेमाल कर सकते हैं। एक बड़े बर्तन में गुनगुना पानी लेकर उसमें दो बड़े चम्मच नमक मिला लें। इस पानी में अपने सूजन वाले हाथ अथवा पैर को भिगोकर रखें। इससे सूजन जल्द ही कम हो जाता है।

सूजनक्षेत्र से अतिरिक्त द्रव्य निकालकर – सूजन कम करने का यह सबसे बेहतरीन तरीका है। इसमें आप पलंग पर लेट जाइए और चोट से प्रभावित क्षेत्र को तकिए का सहारा देकर ऐसे रखिए कि चोट वाला हिस्सा ऊंचाई पर हो। इससे चोट वाली जगह पर एकत्र अतिरिक्त द्रव्य बाहर निकल जाएगा और सूजन से राहत मिल जाएगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 औषधीय गुणों से भरपूर है फिटकरी, इन समस्याओं से जड़ से दिलाता है निजात
2 डायबिटीज के मरीजों को ऐसे फायदा पहुंचाता है अनार का फूल, और भी कई बीमारियों का है इलाज
3 जानिए कड़वी शतावरी के मीठे लाभ, माइग्रेन सहित कई रोगों से दिलाती है छुटकारा
ये पढ़ा क्या?
X