Know about Symptoms and Treatment of Urinary Tract Infection - यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन से बिगड़ी थी पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत, जानिए इसके लक्षण और उपचार - Jansatta
ताज़ा खबर
 

यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन से बिगड़ी थी पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत, जानिए इसके लक्षण और उपचार

Urinary Tract Infection Symptoms and Treatment : यूटीआई यानी की मूत्र मार्ग में बैक्टीरिया की वजह से होता है। इसके अलावा फंगस और रेयर वायरस के चलते भी इस तरह का इन्फेक्शन हो सकता है। ज्यादा देर तक पेशाब रोकने से भी मूत्राशय में बैक्‍टीरिया पनप सकते हैं। यूटीआई का संक्रमण अपर यूरिनरी ट्रैक्ट और लोअर यूरेनरी ट्रैक्ट दोनों में हो सकता है।

यूटीआई के संक्रमण से बचने के लिए खूब सारा पानी पीना चाहिए।

Urinary Tract Infection Symptoms and Treatment : भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी इन दिनों स्वास्थ्य ठीक न होने के कारण दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो उन्हें यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इसके अलावा उन्हें किडनी संबंधी समस्या और लोअर रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन की शिकायत बताई जा रही है। हालांकि अटल बिहारी वाजपेयी की हालत में पहले से काफी सुधार आया है लेकिन उन्हें कुछ और दिन अस्पताल में रहना पड़ेगा। दरअसल, यह यूटीआई यानी की मूत्र मार्ग में बैक्टीरिया की वजह से होता है। इसके अलावा फंगस और रेयर वायरस के चलते भी इस तरह का इन्फेक्शन हो सकता है। ज्यादा देर तक पेशाब रोकने से भी मूत्राशय में बैक्‍टीरिया पनप सकते हैं। यूटीआई का संक्रमण अपर यूरिनरी ट्रैक्ट और लोअर यूरेनरी ट्रैक्ट दोनों में हो सकता है। पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को यूटीआई का संक्रमण ज्यादा देखा जाता है। आइए जानते हैं यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन के लक्षण और उपचार।

यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन के लक्षण

– पेशाब करते समय जलन होना।

– पेट के निचले हिस्से में दर्द होना।

– बार-बार यूरिन आना लेकिन ज्यादा यूरिन पास नहीं होना।

– यूरिन का रंग लाल (खून जैसा) होना।

– यूरिन से अधिक बदबू आना।

– कमरदर्द की शिकायत रहना।

– उल्टी या दस्त होना।

यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन उपचार

– यूटीआई के संक्रमण से बचने के लिए खूब सारा पानी पीना चाहिए।

– पेशाब करने के बाद या नहाने के दौरान ब्लैडर को की सफाई करना चाहिए।

– यूरिन को अधिक देर तक नहीं रोकना चाहिए।

– जिन लोगों को यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन की शिकायत है उन्हें क्रैनबेरी जूस का सेवन करना चाहिए।

– जितना हो सके विटामिन सी का सेवन करना चाहिए।

– भूलकर भी कॉफी और अल्कोहल का सेवन नहीं करना चाहिए।

– काफी मात्रा में पानी पीने के अलावा आराम करना बेहद जरूरी होता है।

– धूम्रपान से परहेज करना चाहिए।

– धूप और गर्मी वाले स्थान पर जाने से बचें या अधिक देर तक उस स्थान पर न रहें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App