ताज़ा खबर
 

खतरनाक है अस्थमा, जानिए इसके लक्षण और घरेलू उपचार

घर में धूल का वातावरण होने, पालतू जानवर, वायु प्रदूषण, धूम्रपान, शराब, सर्दी, फ्लू, एलर्जी वाले खानपान से, अधिक स्ट्रैस में रहने से, सर्दी के मौसम में अधिक ठंड, होना, ज्यादा नमक खाना आदि अस्थमा के कारण हो सकते हैं।

कई शोधकर्ताओं कों कहना है कि अस्थमा में कुछ आनुवांशिक और पर्यावरणीय कारक असर डालते हैं जो अस्थमा का कारण बनता है।

अस्थमा जिसे दमा भी कहते हैं स्वास्थ्य के लिए एक गंभीर समस्या है। यह फेफड़ों में होने वाला रोग है जिसमें सांस की नली पतली या ब्लॉक होने का खतरा होता है। इसकी वजह से सांस लेने में परेशानी होती है। अस्थमा के रोगी को सांस की नली में सूजन और अधिक म्यूकस हो जाता है जिस वजह से खांसी और सांस लेने में परेशानी होती है। इस समस्या के ज्यादा गंभीर होने पर रोगी को इनहेलर्स और इनहेलेंट स्टेरॉयड की आवश्यकता पड़ती है। यह समस्या घर में धूल का वातावरण होने, पालतू जानवर, वायु प्रदूषण, धूम्रपान, शराब, सर्दी, फ्लू, एलर्जी वाले खानपान से, अधिक स्ट्रैस में रहने से, सर्दी के मौसम में अधिक ठंड, होना, ज्यादा नमक खाना आदि अस्थमा के कारण हो सकती है। आइए आज हम आपको अस्थमा के लक्षण और घरेलू उपचार के बारे में बताते हैं।

अस्थमा के लक्षण : सांस लेने में बहुत ही कठिनाई होना, सीने में जकडन का महसूस होना, बैचेनी महसूस होना, सांस लेने पर घरघराहट की आवाज सुनाई देना, सांस लेते समय पसीना आना, सांस लेते समय थकावट का होना, अस्थमा से पीड़ित रोगी की कफ का सख्त होना और साथ में उसमें से बदबू आना आदि अस्थमा के लक्षण हैं।

अस्थमा के घरेलू उपचार

शहद : अस्थमा की समस्या में शहद बेहद कारगर नुस्खों में गिना जाता है। यह बलगम को ठीक करने में सहायक होता है और अस्थमा का अटैक आने पर इसे सूघने से फायदा मिलता है। शहद का इस्तेमाल करने के लिए हल्के गुनगुने एक गिलास पानी में एक चम्मच शहद मिलाकर पीएं, इसे दिन में 3 बार पीने से अस्थमा में फायदा होगा।

अदरक और लहसुन : आधा कप दूध में लहसुन की 5 कलियां उबालकर पीने से अस्थमा के रोगियों को फायदा होगा। इसके अलावा जिन लोगों को अस्थमा की शिकायत है उन्हें अदरक की गर्म चाय में लहसुन की दो कलियां मिलाकर सुबह-शाम पीनी चाहिए।

अजवाइन : अस्थमा के रोगियों के लिए अजवाइन बेहद कारगर नुस्खा है। आधा कप अजवाइन के रस को आधा गिलास पानी में मिलाकर सुबह-शाम पीने से अस्थमा के रोगियों को फायदा होगा। इसके अलावा अजवाइन को पानी में उबालकर उसकी भाप लेने से भी लाभ मिलेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App