ताज़ा खबर
 

वर्कआउट से पहले एनर्जी ड्रिंक्स पीने के होते हैं ये 6 साइड इफेक्ट्स

एनर्जी ड्रिंक्स में काफी मात्रा में कैफीन पाया जाता है। इसके हमारे शरीर पर कई तरह के साइड इफेक्ट्स दिखाई पड़ते हैं।

प्रतीकात्मक चित्र

एनर्जी ड्रिंक्स में काफी मात्रा में कैफीन पाया जाता है। इसके हमारे शरीर पर कई तरह के साइड इफेक्ट्स दिखाई पड़ते हैं। यूरोप में एनर्जी ड्रिंक्स का चलन 1987 से शुरू हुआ था जो आज दुनिया भर में खूब इस्तेमाल किया जा रहा है। कई तरह के अध्ययन बताते हैं कि एनर्जी ड्रिंक्स के पीने से हमारी सेहत को नुकसान पहुंचता है। कैफीन से भरपूर एनर्जी ड्रिंक्स डिहाइड्रेशन, तनाव, मोटापा आदि कई तरह की बीमारियों की वजह बनते हैं। ऐसे में इनके संतुलित मात्रा के सेवन पर ध्यान देना चाहिए। आ हम आपको एनर्जी ड्रिंक्स के कुछ साइड इफेक्ट्स के बारे में बताने वाले हैं। तो चलिए जानते हैं कि वे साइड इफेक्ट्स क्या हैं।

कैफीन का ओवरडोज – एनर्जी ड्रिंक्स में काफी मात्रा में कैफीन होता है। 16 औंस एनर्जी ड्रिंक में तकरीबन 200 ग्राम कैफीन होता है। शरीर में ज्यादा मात्रा में कैफीन के कंजप्शन से हाइपरटेंशन और कैल्शियम की कमी जैसी समस्याएं सामने आती हैं। ऐसे में संतुलित मात्रा में ही एनर्जी ड्रिंक्स का सेवन जरूरी है।

HOT DEALS
  • Sony Xperia L2 32 GB (Gold)
    ₹ 14845 MRP ₹ 20990 -29%
    ₹0 Cashback
  • Vivo V7+ 64 GB (Gold)
    ₹ 17990 MRP ₹ 22990 -22%
    ₹900 Cashback

मोटापा – चूंकि एनर्जी ड्रिंक्स से शरीर में ज्यादा मात्रा में कैफीन पहुंचता है तो ऐसे में इससे मोटापे की समस्या से भी दो-चार होना पड़ सकता है। एनर्जी ड्रिंक्स में शुगर कंटेंट की भी काफी मात्रा होती है। यह भी मोटापे का कारण बन सकता है। 16 औंस एनर्जी ड्रिंक में तकरीबन 220 कैलोरी पाई जाती है। इसके अलावा इससे टाइप 2 डायबिटीज के बढ़ने की आशंका होती है।

चिंता – ज्यादा मात्रा में एनर्जी ड्रिंक्स पीने वाले लोगों में चिंता और तनाव की समस्या भी बढ़ सकती है। ऐसे उसमें मौजूद कैफीन कंटेंट की वजह से होता है।

दांतों से संबंधित समस्या – एनर्जी ड्रिंक्स में काफी मात्रा में शुगर पाया जाता है। इससे दांतों की सेहत प्रभावित होती है। एनर्जी ड्रिंक्स में मौजूद शुगर दांतों के इनेमल को प्रभावित करता है। इससे दांतों में कैविटी, अतिसंवेदनशीलता और दांतों को घिसने जैसी समस्या पैदा होती है।

डिहाइड्रेशन – एनर्जी ड्रिंक्स से शरीर को इंस्टैंट एनर्जी के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसीलिए इसे वर्कआउट के दौरान या फिर स्पोर्ट्स के वक्त सेवन किया जाता है। एनर्जी ड्रिंक्स को अगर बिना किसी अन्य फ्लूड्स के साथ लिया जाए तो इससे डिहाइड्रेशन की समस्या होती है।

एडिक्शन – एनर्जी ड्रिंक्स का सबसे बड़ा साइड इफेक्ट है कि इससे कैफीन की लत लग जाती है। इसकी आदत हो जाने के बाद आपको अपने हर वर्कआउट सेशन से पहले एनर्जी ड्रिंक की जरूरत महसूस होने लगेगी। ऐसे में जिस दिन आप बिना एनर्जी ड्रिंक्स के वर्कआउट करेंगे तो आपको कमजोरी महसूस होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App