किडनी से संबंधित हो सकती हैं ये गंभीर बीमारियां, इन घरेलू उपाय से कर सकते हैं आसानी से इलाज

पेशाब कम होना, पेट के निचले भाग में दर्द रहना, थकान महसूस करना, पैरों और एड़ियों में सूजन रहना, पेशाब में खून आना आदि लक्षणों के नजर आने पर सतर्क हो जाएं।

Kidney Stone, Kidney Stones symptoms, पथरी, किडनी स्टोन
जो लोग पानी कम मात्रा में पीते हैं, किडनी में स्टोन की समस्या से उन्हें जूझना पड़ सकता है

हमारे शरीर में किडनी एक बेहद महत्वपूर्ण अंग है। किडनी का आकार राजमा की तरह दिखता है। शरीर में दो किडनी होती हैं, किडनी का काम है कि खून साफ करके यूरिन का निर्माण करना होता है। इसके साथ ही शरीर में एसिड, इलेक्ट्रोलाइट्स की सही मात्रा को बनायें रखना। रोजमर्रा की कुछ ऐसी आदतें होती हैं जो न सिर्फ हमारे स्वास्थ्य पर बुरा असर डालती हैं बल्कि किडनी की भी सेहत खराब कर देती हैं।

किडनी ख़राब या कमजोर होने पर शरीर में बहुत से रोगों के बढ़ जाने की संभावना बन जाती है। यदि समय पर इसका इलाज ना कराया जाए तो किडनी फेल भी हो सकती है। किडनी या गुर्दे में होने वाली समस्या आमतौर पर देर से नजर आती हैं, लेकिन पेशाब कम होना, पेट के निचले भाग में दर्द रहना, थकान महसूस करना, पैरों और एड़ियों में सूजन रहना, पेशाब में खून आना आदि लक्षणों के नजर आने पर सतर्क हो जाएं और अपने डॉक्टर से परामर्श अवश्य लें। इस लेख में आज हम आपको उन आदतों के बारे में बताएंगे जिनके वजह से आपकी किडनी को नुकसान हो सकता है।

पर्याप्त नींद न लेना: दिन- प्रतिदिन लोगों की लाइफस्टाइल बदलती जा रही है। लोग देर रात में सोने से लेकर सुबह जल्दी उठने के चलते अपनी लाइफस्टाइल ख़राब करते जा रहे हैं। मात्र 4 से 5 घंटे की नींद लेने वाले लोगों की किडनी पर बुरा असर होता है। देर रात मोबाइल चलना और फिर सुबह जल्दी उठकर ऑफिस जाना और सारा दिन काम करने के बाद भी शरीर को आराम नहीं देने से ये आदतें ना सिर्फ आपको शारीरिक और मानसिक रूप से बीमार करती हैं, बल्कि इससे किडनी की सेहत भी प्रभावित करती हैं। यदि किडनी को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो प्रति- दिन 7 से 8 घंटे की अच्छी नींद अवश्य लें।

पेशाब रोकना: ज्यादातर लोग बेवजह पेशाब रोककर रखते हैं। पेशाब यानी यूरिन को अधिक समय तक रोके रहना भी किडनी के सेहत के लिए नुकसानदेह है। पेशाब रोकने के कारण यूरिन में इंफेक्शन, ब्लैडर में इंफेक्शन या गंभीर स्थिति में किडनी में इंफेक्शन होने की संभावना बढ़ जाती है। देर तक पेशाब को रोक कर रखने की यह आदत किडनी में पथरी की समस्या को भी बढ़ा सकता है।

कम पानी पीने की आदत: यह सभी को पता है कि किडनी को स्वस्थ रखने के लिए पानी को पर्याप्त मात्रा में पीना चाहिए। तरल पदार्थों की वजह से शरीर हाइड्रेटेड रहता है और इससे शरीर में मौजूद टॉक्सिक पदार्थों को बाहर निकलने में मदद मिलती है। एक स्वस्थ व्यक्ति को दिन में कम से कम 3 से 4 लीटर पानी पीने की आदत डालनी चाहिए। पानी पीने से किडनी में पथरी नहीं होती इसके साथ त्वचा भी सुंदर बनी रहती है।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
पढ़े: क्या है हमारी लाइफ मे ‘VITAMIN B’ का महत्त्व
अपडेट