ताज़ा खबर
 

दवाओं के सहारे डिप्रेशन से लड़ रहे हैं कपिल शर्मा, इन 4 तरीकों से बिना दवा खाए पा सकते हैं अवसाद से निजात

डिप्रेशन एक गंभीर मानसिक बीमारी है। जिसका समय रहते इलाज न कराया जाए तो स्थिति गंभीर भी हो सकती है।
खुद कपिल ने भी कई बार स्वीकार किया है कि अभी उनके मानसिक हालात ठीक नहीं हैं और वह डिप्रेशन के शिकार हैं।

कॉमेडियन से एक्टर बने कपिल शर्मा आजकल काफी चर्चा में हैं। ट्विटर पर अपशब्द लिखने तथा रिपोर्टर को फोन पर गालियां देने की वजह से उनकी काफी आलोचना हो रही है। इस बीच उन्हें जानने वाले तथा करीबियों ने कपिल के मानसिक हालात को लेकर चिंता जाहिर की है। खुद कपिल ने भी कई बार स्वीकार किया है कि अभी उनके मानसिक हालात ठीक नहीं हैं और वह डिप्रेशन के शिकार हैं। माना जा रहा है कि उनकी फिल्म फिरंगी की असफलता तथा उनके नए शो के बारे में लोगों से नकारात्मक फीडबैक मिलने के बाद कपिल काफी डिप्रेशन में हैं। ऐसे में वह इससे निपटने के लिए दवाइयों का सहारा ले रहे हैं। डिप्रेशन एक गंभीर मानसिक बीमारी है। जिसका समय रहते इलाज न कराया जाए तो स्थिति गंभीर भी हो सकती है। आज हम आपको डिप्रेशन से लड़ने के 5 ऐसे तरीकों के बारे में बताने वाले हैं जिनके इस्तेमाल से आपको एंटी-डिप्रेशन दवाइयां खाने की जरूरत नहीं पड़ेगी और आप जल्द ही इससे छुटकारा पाने में कामयाब हो जाएंगे।

मेडिटेशन – ध्यान डिप्रेशन से लड़ने का सबसे प्रभावशाली तरीका है। एक अध्ययन में इस बात का दावा किया गया है प्रतिदिन 30 मिनट का मेडिटेशन बिना दवाओं और काउंसलिंग के डिप्रेशन से निजात दिला सकता है। ध्यान के नियमित अभ्यास से चिंता, तनाव, अवसाद, खान-पान में अनियमितता जैसी तमाम समस्याएं खत्म की जा सकती हैं।

ज्यादा से ज्यादा बाहर जाएं – इंसान सदियों से घूमंतू प्रवृत्ति का रहा है। पिछले कुछ सौ सालों में हमने अपने आपको कमरों और कार्यालयों में बंद कर लिया है। ऐसे में तनाव और अवसाद से लड़ने के लिए आपको ज्यादा से ज्यादा प्रकृत्ति के निकट रहने की कोशिश करनी चाहिए। इससे आपके शरीर में स्ट्रेस हार्मोन के स्राव में, ब्लड प्रेशर, पल्स रेट, हार्ट रेट आदि के स्तर में कमी आती है। सूरज की रोशनी, ताजी हवाएं तथा खुला वातावरण डिप्रेशन दूर करने में काफी मददगार होते हैं।

एक्सरसाइज – नियमित एक्सरसाइज करने से शरीर में प्राकृतिक रूप से बीडीएनएफ बढ़ता है। यह एक ऐसा कंपाउंड है जो शरीर में न्यूरॉन्स की मात्रा बढ़ाने के काम आता है। इससे स्ट्रेस में कमी आती है और डिप्रेलिव सिंप्टम्स को दुरुस्त करने में मदद मिलती है। आजकल तो कई सारे डॉक्टर्स भी डिप्रेशन के लिए दवाओं की बजाय नियमित एक्सरसाइज की सलाह देते हैं।

पोषक तत्व – डिप्रेशन दूर करने के लिए पोषक तत्वों की भरपूर मात्रा का सेवन बेहद जरूरी है। पोषक तत्वों से भरपूर सब्जियां, हर्ब्स, मसाले, वसा और विटामिन से भरपूर डाइट डिप्रेशन से लड़ने में आपकी काफी मदद कर सकते हैं। इसके अलावा ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन भी काफी लाभकारी सिद्ध हो सकता है।


Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App