ताज़ा खबर
 

जोड़ों में दर्द और सूजन हाई यूरिक एसिड के हैं लक्षण, इन घरेलू उपायों से पाएं निजात

Diet For Uric Acid Patients: यूरिक एसिड के स्तर को काबू में रखने के लिए विटामिन-सी को भी डाइट में प्रचुर मात्रा में शामिल करना चाहिए

Uric Acid, gout, hyperuricemia, arthritis, uric acid food, uric acid food chartइन मरीजों को जोड़ों का दर्द और हाथ-पैर में सूजन जैसी शिकायतें आम हो जाती हैं

Uric Acid Home Remedies: शरीर में मौजूद वेस्ट मेटीरियल्स को बाहर निकालना बेहद जरूरी होता है। ये विषैले पदार्थ लिवर, किडनी और स्वेट ग्लैंड्स के माध्यम से बॉडी के बाहर निकलते हैं। माना जाता है कि प्यूरीन नामक प्रोटीन के ब्रेकडाउन से शरीर में यूरिक एसिड बनने लगते  हैं। सामान्य तौर पर शरीर में मौजूद यूरिक एसिड किडनी और यूरिन के जरिये बाहर निकल जाता है। लेकिन जब लोग प्यूरीन से भरपूर खाद्य पदार्थों को डाइट में अधिक शामिल करते हैं या फिर जब किडनी टॉक्सिक पदार्थों को फिल्टर करने में सक्षम नहीं रह जाता है, तो ब्लड में यूरिक एसिड की अधिकता हो जाती है। इस स्थिति को मेडिकल टर्म में हाइपरयूरिसेमिया कहते हैं। आइए जानते हैं विस्तार से –

क्या है शरीर में यूरिक एसिड का सामान्य स्तर: महिलाओं व पुरुषों में यूरिक एसिड का नॉर्मल रेंज अलग-अलग हो सकता है। महिलाओं में जहां यूरिक एसिड का लेवल 2.4-6.0 mg/dL के बीच होना चाहिए। जबकि पुरुषों में इसका स्तर 3.4-7.0 mg/dL के बीच रहना चाहिए। इससे ज्यादा होने पर अक्सर लोग गाउट नाम की बीमारी से पीड़ित हो जाते हैं, जिससे शरीर के जोड़ों में यूरेट क्रिस्टल्स जमा हो जाते हैं। इन मरीजों को जोड़ों का दर्द और हाथ-पैर में सूजन जैसी शिकायतें आम हो जाती हैं।

क्यों बढ़ जाता है यूरिक एसिड: डाइट में प्यूरीन प्रोटीन की अधिकता के अलावा, कई दूसरे कारण भी शरीर में यूरिक एसिड के स्तर को बढ़ाने के लिए जिम्मेदार होते हैं। मानसिक तनाव, जेनेटिक प्रॉब्लम, मोटापा और दवाइयों का सेवन भी यूरिक एसिड लेवल को बढ़ाता है।

बचाव के लिए अपनाएं ये उपाय: एक सामान्य व्यक्ति को रोजाना 7 से 8 घंटे की नींद की जरूरत होती है। माना जाता है कि नींद पूरी ना होने पर शरीर से स्ट्रेस हॉर्मोन रिलीज हो सकते हैं जिससे शरीर में यूरिक एसिड के बढ़ने की संभावनाएं बढ़ जाती है। इसलिए यूरिक एसिड के मरीज इस बात का ध्यान रखें कि आप रोजाना पर्याप्त नींद लें। साथ ही, स्ट्रेस लेने से बचें।

ऐसा होना चाहिए डाइट: स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि खाने में जो लोग फाइबर युक्त भोजन को शामिल करते हैं, उनके लिए यूरिक एसिड से पीछा छुड़ाना आसान होता है। साथ ही, विटामिन-सी को भी डाइट में प्रचुर मात्रा में शामिल करना चाहिए। इसके अलावा, भरपूर पानी पीना भी जरूरी है। वहीं, ज्यादा मीठा खाने और पैकेज्ड फूड के सेवन से भी बचना चाहिए। इसके अलावा, शराब से भी परहेज करना चाहिए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 डेली रूटीन में ये 7 बदलाव Diabetes के मरीजों के लिए हैं जरूरी, काबू में रहेगा ब्लड शुगर
2 ठंड के मौसम में इम्युनिटी न हो जाए कमजोर, डाइट में शामिल करें ये 4 फल
3 आंखों से लेकर किडनी तक के लिए खतरनाक है बीपी का High होना, जानें कारण, लक्षण व बचाव के उपाय
ये पढ़ा क्या ?
X