ताज़ा खबर
 

क्या मोटे लोगों के लिए कोरोना वायरस ज्यादा खतरनाक है? जानिये…

Coronavirus and Obesity: हाल में हुए रिसर्च से ये पता चला है कि पतले लोगों की तुलना में मोटापे से ग्रसित लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा अधिक है

coronavirus, coronavirus in fat people, coronavirus prevention, coronavirus and obesity, are fat people more prone to coronavirus, coronavirus new research, bmi, coronavirus tips, weight loss tips, coronavirus news, coronavirus update, who on coronavirus, coronavirus eating habits, who eating tips during coronavirus, how to stay safe from coronavirus, coronavirus patients, coronavirus mumbai, coronavirus in india, coronavirus stats, coronavirus tally, coronavirus new symptoms, CDC on coronavirus, skin colour change due to coronavirus, coronavirus pandemic, coronavirus outbreak, coronavirus in india, coronavirus through eyes, how to keep eyes safe, coronavirus tips, coronavirus and eyes coronavirus facts, coronavirus rumours, coronavirus fear, coronavirus impact, coronavirus india, coronavirus italy, coronavirus america, coronavirus hotspot, coronavirus patients, coronavirus newyork, coronavirus in human being, coronavirus in animals, indian government on coronavirus, coronavirus world, coronavirus china, coronavirus symptoms, coronavirus lockdown, coronavirus treatment, coronavirus medicine, coronavirus precautions, covid-19, coronavirus in india, coronavirus threatकोरोना वायरस शरीर में सेल्स में मौजूद एसीइ-2 नाम के एंजाइम से पहुंचता है, ये एंजाइम फैटी सेल्स में ज्यादा पाए जाते हैं

Coronavirus and Obesity: देश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 70 हजार पार कर चुका है। भारत सरकार, स्वास्थ्य विभाग, वैज्ञानिक और आयुष मंत्रालय इस वायरस के प्रकोप को कम करने की तमाम कोशिशें कर रहे हैं। अब तक प्राप्त जानकारी के अनुसार ये वायरस उन लोगों को अपना शिकार जल्दी बनाती है जिनमें रोग प्रतिरोधक क्षमता यानि कि इम्यूनिटी कमजोर हो। ऐसे में लोग अपनी इम्यूनिटी को मजबूत करने के लिए हरसंभव प्रयास कर रहे हैं। वहीं, पहले से किसी बीमारी से पीड़ित लोगों को भी हेल्थ ऑफिशियल्स अधिक सतर्क रहने की सलाह दे रहे हैं। इस बीच, हाल में हुए शोध से पता चलता है कि मोटापा से ग्रस्त या फिर अधिक वजन वाले लोगों को भी कोरोना वायरस से ज्यादा खतरा है।

क्या कहता है शोध: ‘बीबीसी’ में छपी खबर के अनुसार ब्रिटेन में 17 हजार लोगों पर किए गए इस शोध से पता चलता है कि वैसे लोग जो मोटे थें और जिनका बॉडी मास इंडेक्स यानि कि बीएमआई 30 से ऊपर था, उनमें मृत्यु दर दूसरों की तुलना में 33 प्रतिशत अधिक था। वहीं, एक अन्य शोध के मुताबिक कोरोना वायरस से मोटे लोगों की मृत्यु दर दोगुनी है। शोधकर्ताओं की मानें तो इस वायरस के मरीज जो मोटे तो हैं ही, साथ में हार्ट या डायबिटीज के पेशेंट हैं तो उनमें ये आंकड़ा और भी ज्यादा है। इसके अलावा, ब्रिटेन के आईसीयू में भर्ती लोगों में करीब 34.5 फीसदी मरीज ओवरवेट थे जबकि 31.5 प्रतिशत लोग मोटे थे।

मोटे लोगों को क्यों है ज्यादा खतरा: पतले लोगों की तुलना में मोटे लोगों को कोई भी बीमारी होने की आशंका ज्यादा होती है। मोटापे से पीड़ित लोगों में एक्सट्रा फैट मौजूद होता है जो लिवर को बुरी तरह से प्रभावित करता है। इस वजह से ब्लड में ऑक्सिजन की मात्रा कम होते जाती है। रिपोर्ट के अनुसार कोरोना वायरस शरीर में सेल्स में मौजूद एसीइ-2 नाम के एंजाइम से पहुंचता है। ये एंजाइम फैटी सेल्स में ज्यादा पाए जाते हैं, ऐसे में वजनदार लोगों में कोरोना वायरस से संक्रमित होने का रिस्क ज्यादा होता है।

ऐसे रखें अपना ख्याल: मोटापा घटाने के लिए बैलेंस्ड डाइट का सेवन करना बहुत जरूरी है। फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थों को अपने डाइट का हिस्सा बनाएं, इससे आपको जल्दी भूख नहीं लगेगी। साथ ही, उन फूड आइटम्स को ज्यादा महत्व दें जिन्हें खाने से आपका मेटाबॉलिज्म बेहतर हो। वजन कम करने में मेटाबॉलिज्म का बहुत बड़ा योगदान होता है। जिन लोगों में मेटाबॉलिज्म बेहतर होती है उन्हें वजन कम करने में आसानी होती है। इसके अलावा, नियमित रूप से व्यायाम करने से भी मोटापा कम करने में मदद मिलेगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 जानिए कब कराना चाहिए यूरिक एसिड टेस्ट, इन बातों का ध्यान रखना भी है जरूरी
2 शराब नहीं, इन चीजों से भी हो सकती है फैटी लिवर की समस्या, ये हैं इस बीमारी के लक्षण
3 लॉकडाउन हटाने से पहले किन बातों का ध्यान रखना जरूरी, जानिये WHO ने क्या कहा…
ये पढ़ा क्या?
X