High Uric Acid पर लगाम लगाने के लिए डाइट में शामिल करें ये फूड्स

High Uric Acid Control: साबुत अनाज और दाल में प्रचुर मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो यूरिक एसिड के मरीजों के लिए फायदेमंद होते हैं

Uric Acid, Uric Acid diet, Uric Acid foods
यूरिक एसिड कंट्रोल करने में कुछ पेय पदार्थ कारगर साबित हो सकते हैं

High Uric Acid: शरीर में प्यूरीन के ब्रेकडउन से यूरिक एसिड निकलता है। बॉडी में इस केमिकल की मात्रा बढ़ने से जोड़ों में क्रिस्टल्स जमा होने लगते हैं। इस वजह से लोगों को गाउट, गठिया, किडनी स्टोन, हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज और थायरॉयड जैसी गंभीर बीमारियों का खतरा होता है।

आमतौर पर यूरिक एसिड ब्लड में डिजॉल्व होकर किडनी में पास होता है, फिर पेशाब के जरिये शरीर के बाहर निकल आता है। लेकिन जब लोग प्यूरीन युक्त फूड्स और ड्रिंक्स का सेवन करते हैं तो बॉडी में इसकी मात्रा ज्यादा हो जाती है। ऐसे में किडनी इस एसिड को फिल्टर नहीं कर पाता है और स्वास्थ्य परेशानियां बढ़ने लगती हैं। यही वजह है कि यूरिक एसिड कंट्रोल करने में डाइट की भूमिका अहम होती है। आइए जानते हैं किन चीजों को खानपान में शामिल करना चाहिए –

खट्टे फल: संतरा, अमरूद, आंवला और नींबू जैसे खट्टे फल विटामिन-सी से भरपूर होते हैं जो यूरिक एसिड लेवल को नियंत्रित करने में मददगार साबित होते हैं। साथ ही, इसमें प्रचुर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं जो गाउट के खतरे को कम करते हैं और सूजन कम करने में भी सहायक होते हैं।

सब्जी: कुछ सब्जियां जैसे कि शकरकंद, लहसुन, प्याज, मूली, अदरक, मेथी, बैंगन, बथुआ, गाजर और चुकंदर यूरिक एसिड के स्तर पर नियंत्रण रखने में मदद करता है।

दाल: साबुत अनाज और दाल में प्रचुर मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो यूरिक एसिड के मरीजों के लिए फायदेमंद होते हैं। हालांकि, चना य मसूर दाल के सेवन से मरीजों को बचना चाहिए। वहीं, यूरिक एसिड के मरीज मूंग दाल का सेवन करना फायदेमंद साबित होगा।

ड्रिंक्स: यूरिक एसिड कंट्रोल करने में कुछ पेय पदार्थ कारगर साबित हो सकते हैं। बता दें कि किडनी को हेल्दी रखने के लिए भरपूर मात्रा में पानी पीने की जरूरत होती है। पानी के अलावा, नींबू पानी, आंवले का जूस, धनिये का रस, नारियल पानी, गाजर और चुकंदर का रस भी फायदेमंद साबित होगा।

इन मसालों का करें सेवन: हल्दी में करक्यूमिन तत्व मौजूद होता है जो यूरिक एसिड को नियंत्रित करने में मदद करता है। वहीं, अजवाइन में ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है जो यूरिक एसिड पर काबू करता है। साथ ही, इलायची में मौजूद गुण भी जोड़ों के दर्द कम करने में सहायक होते हैं।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X