ताज़ा खबर
 

म्‍यूजिक सुनते-सुनते सोने की आदत है? इस वजह से न करें हेडफोन्‍स का इस्‍तेमाल

आजकल हम में से अधिकतर लोग हेडफोन्‍स का इस्तेमाल करते हैं। हेडफोन्‍स के बिना हम लोग आजकल संगीत सुन ही नहीं पाते हैं। हालांकि आपको जानना चाहिए ईयरफोन के इस्तेमाल से कई समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए इनका इस्तेमाल कम ही करना चाहिए।

headphones, health effects, headphone is harmful, harms of using headphones, side effects of using headphones, health news, hindi news, news in hindi, jansattaप्रतीकात्मक चित्र।

हम जानते हैं कि अधिकतर लोग स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं। हम में से ज्यादातर लोगों का समय फोन का इस्तेमाल करने में ही व्यतीत होता है। फोन के साथ-साथ हम हेडफोन्स का इस्तेमाल भी करते हैं। खासकर युवा पीढ़ी सबसे ज्यादा ईयरफोन का इस्तेमाल करती है। हम हर काम के साथ-साथ हेडफोन का इस्तेमाल करते हैं फिर वो पढ़ाई हो या ऑफिस का काम। यहां तक कि हम सोते समय भी ईयरफोन से गाना सुनते रहते हैं। क्या आप जानते हैं कि हेडफोन्स का अधिक इस्तेमाल आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। इससे आपको कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं भी हो सकती हैं। तो आइए जानते हैं हर समय ईयरफोन के इस्तेमाल से होने वाले दुष्प्रभाव।

ईयरबड्स पर पड़ता है बुरा प्रभाव 
कई शोधों में पता चला है कि अगर आप सोते समय ईयरफोन्स के जरिए गाने सुनते हैं और गाने सुनते-सुनते सो जाते हैं तो इससे आपते ईयरबड्स पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इससे आपकी नींद की गुणवत्ता खराब होती है।

सुनने में दिक्कत होना
लगातार हेडफोन्स का इस्तेमाल करने से और तेज आवाज में गाने सुनने से आपके ईयरड्रम को नुकसान पहुंचता है। 90 डेसीबल से ज्यादा आवाज सुनना कान के लिए हानिकारक माना जाता है। शोधों के अनुसार, ईयरफोन की वजह से सुनने में दिक्कत हो सकती हैं।

कीटाणु कान में आ जाना
अगर आप अपने हेडफोन दूसरों के साथ शेयर करते हैं तो इसका मतलब है कि आप कीटाणु शेयर कर रहे हैं। हालांकि आप इस बात पर ध्यान नहीं देते लेकिन आपके कान में कीटाणु चले जाते हैं, जिसकी वजह से इंफेक्शन हो सकता है।

फोकस नहीं कर पाना
लगातार हेडफोन का इस्तेमाल आपकी एकाग्रता को कम कर सकता है। गाने सुनने की वजह से आपका फोकस कम होने लगता है। अगर आप ईयरफोन लगाकर काम करते हैं तो काम के दौरान फोकस करने में परेशानी हो सकती है।

कान में इंफेक्शन
हेडफोन के स्पॉन्ज वातावरण के संपर्क में आते हैं जिससे इन पर कीटाणु जमा होते हैं। जब हम इन्हें कान के अंदर लगाते हैं तो ये कीटाणु कान में जाते हैं और इंफेक्शन का कारण बन सकते हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कम उम्र से ही शुरू कर दें ये उपाय, कभी नहीं होगी पीठ दर्द की समस्‍या
2 Yo-Yo Dieting: जानिए क्‍यों जानलेवा है इस तरह की डाइटिंग, रिसर्चर्स ने दी चेतावनी
3 खाने वाले तेल में धीमा जहर! एक्‍सपर्ट बोले- दिल और गुर्दे पर डालता है असर
ये पढ़ा क्या?
X