ताज़ा खबर
 

अगर आपको भी है पित्त की थैली में पथरी तो अपने डाइट चार्ट से हटा दें ये चीजें

पथरी का पता लगने पर हम डॉक्टर से दवा तो ले लेते हैं, लेकिन अपनी जीवनशैली और खान-पान की आदतों में बदलाव नहीं करते।

Gallbladder Removal, Gallbladder, gall bladder stone, stones, Food items, dont eat these things in gall bladder stone, Symptoms of gall bladder stone, Symptoms of gall bladder stone in hindi, health news in hindi, health news, jansatta, पित्ताशय की थैली में पथरी, पथरी के लक्षण, हाइड्रोजनीकृत वसा, ट्रांस वसा और सेचुरेटेड वसासांकेतिक फोटो

हमारे खान-पान और खराब जीवनशैली के वजह से हमें पथरी होती है। पथरी दो तरह की होती है। एक पथरी गुर्दों में होती है तो दूसरी वाली पित्ताशय की थैली में होती है। दोनों ही पथरी में पेट में दर्द होता है। यह दर्द ऐसा होता है, जो कि सहन नहीं किया जा सकता। शुरुआत में यह दर्द हमें साधारण पेट दर्द सा महसूस होता है। इस वजह से हमें लगता है कि हमारे पेट में गैस बन रही है इसलिए हमें यह दर्द हो रहा है लेकिन वह सामान्य दर्द काफी असहनीय हो जाता है। पथरी का पता लगने पर हम डॉक्टर से दवा तो ले लेते हैं, लेकिन अपनी जीवनशैली और खान-पान की आदतों में बदलाव नहीं करते। अगर हम अपनी जीवनशैली बदल लेते हैं और खान-पान की आदतें बदल लें तो इनसे हमें राहत मिल जाएगी।

पित्ताशय की थैली में पथरी के लक्षण- इसमें आपके पेट के बीच के हिस्से में बहुत दर्द होगा और दर्द लगातार बढ़ता रहेगा। आपको उल्टी होगी और बुखार आएगी। इसके साथ ही आपको ठंड भी लग सकती है। इसके अलावा आपके मल-मूत्र का रंग भी बदल जाएगा। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं कि पित्त की थैली में पथरी होने पर कैसी चीजें खाने से तौबा करें-

तली हुई चीजें- अगर आपको पित्त की थैली में पथरी है तो तली हुई चीजों का सेवन बंद कर दें। इनमें हाइड्रोजनीकृत वसा, ट्रांस वसा और सेचुरेटेड वसा होती है जो आपके पित्त के दर्द को बढ़ा सकता है।

अंडे से तौबा- शरीर में अधिक कोलेस्ट्रॉल होने के कारण ही पित्त में पथरी हो जाती है। अंडे में अधिक मात्रा में कोलेस्ट्रॉल होता है इसलिए अंडे का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए।

दूध उत्पाद न खाएं- दूध से बनने वाले उत्पाद में अधिक मात्रा में वसा होती है जो कि पित्त की पथरी को बढ़ने में मदद करती है इसलिए हमें दूध से बनने वाली चीजों का कम मात्रा में सेवन करना चाहिए।

पैकिट बंद चीजों ना खाएं- पैकिट बंद चीजें आजकल ज्यादा खाई जा रही है लेकिन हमे यह नहीं पता होता कि ये चीजें हमारे शरीर के लिए कितनी खतरनाक हैं। पैकिट बंद चीजों में ट्रांस फैटी एसिड आमतौर पर पाया जाता है जो कि पित्त की पथरी को बढ़ाने में मदद करता है।

मीट का सेवन- अगर आपको पित्त की थैली में पथरी है तो मांसाहारी पदार्थों का सेवन बंद कर दें। इनमें कोलेस्ट्रॉल और वसा दोनों की मात्रा काफी ज्यादा होती है, जो कि आपके लिए जहर के समान होती है। साथ ही इसके सेवन करने से पेट में गैस बनती है जो आपके दर्द की वजह बन सकती है। ऐसे में मीट का सेवन करना बंद कर दें।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 घुटने और जोड़ों के दर्द से हैं परेशान तो इन घरेलू नुस्खों से पा सकते हैं छुटकारा
2 चढ़ता पारा बढ़ा रहा बीमारियों का खतरा
3 टैटू बनवाने से हो सकती हैं कई गंभीर बीमारियां और परेशानियां
ये पढ़ा क्या?
X