ताज़ा खबर
 

सोने से पहले कॉफी पीते हैं तो हो जाएं सावधान, सेहत पर डालती है बहुत बुरा असर

सोने से कुछ देर पहले कॉफी पीने से आपको सिरदर्द, मतली, तनाव, घबराहट, बेचैनी और तेज़ धड़कनों जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

प्रतीकात्मक तस्वीर।

ऐसे बहुत से लोग हैं जो दिनभर में कई बार कॉफी पीने के शौकीन होते हैं। कुछ लोग सुबह जल्दी से एक्टिव होने के लिए कॉफी पीते हैं। कॉफी पीने के बारे में लोगों का मानना है कि यह थॉट प्रोसेस सही करने का सबसे आसान तरीका है। इसके अलावा इसके सेवन से दिल के रोगों, मस्तिष्क संबंधी रोगों और टाइप टू डायबिटीज का खतरा भी कम हो सकता है। लेकिन सोने से पहले कॉफी पीने का सेवन सेहत पर बुरा असर डाल सकता है, आइए जानते है कैसे।

दरअसल, हारवर्ड युनिवर्सिटी के ‘टी. एच. चान स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ’ के शोधकर्ताओं को अध्ययन में पता चला कि कैफीन युक्त या कैफीन रहित दोनों तरह की कॉफी पीने के कई फायदे हैं। जांच में पाया गया कि संयत कॉफी सेवन से दिल के रोगों, पर्किं सन्स जैसे मस्तिष्क संबंधी रोगों, टाइप टू डायबिटीज और आत्महत्या से मौत का खतरा कम हो सकता है। लेकिन बाकी शोध में यह भी पाया गया है कि रात के समय कॉफी का सेवन करने से शरीर को नुकसान हो सकता है। इसका सबसे ज्यादा असर नींद पर पड़ता है।

बोल्डर में कोलोराडो विश्वविद्यालय में इंटीग्रेटिव फिजियोलॉजी विभाग के प्रोफेसर अध्ययन सह-लेखक और नींद शोधकर्ता केनेथ राइट जूनियर की स्टडी रिपोर्ट के मुताबिक जो लोग खुद को फ्रैश रखने के लिए कॉफी का सेवन करते हैं, क्योंकि कॉफी ऐसा नहीं करती बल्कि यह आपके इंटरनेल क्लोक यानी सोने और उठने के समय पर बुरा असर डालती है और जल्दी सोने में परेशानी होती है। इस शोध में मक्खियों और चूहों जैसे प्रजातियों में शरीर में कैफिन की जांच की गई थी।

सोने से कुछ देर पहले कॉफी पीने से आपको सिरदर्द, मतली, तनाव, घबराहट, बेचैनी और तेज़ धड़कनों जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इनकी वजह से आपकी नींद खराब होगी। अत्यधिक कैफीन का सेवन करने से आपको दस्त, उल्टी, मांसपेशियों की थकान और वज़न कम होना जैसी अन्य परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है। सीने की जलन और एसिडिटी भी कैफीन से बढ़ जाती है। एक दिन में तीन कप से ज्यादा कॉफी पीने से आपको अनिद्रा का सामना करना पड़ सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App