ताज़ा खबर
 

कोरोना की दूसरी लहर: ये 7 फूड्स करते हैं आपकी इम्युनिटी कमजोर, दूरी बनाना ही ठीक

Immunity Boosting Tips in Hindi: सफेद ब्रेड, कुकीज, केक और पेस्ट्रीज जैसे फूड आइटम्स मैदा से बने होते हैं जिनमें कैलोरीज ज्यादा और पोषक तत्व कम पाए जाते हैं

coronavirus, covid-19, corona second wave, immunity boosting tipsसोडा, जूस, मीठी चाय, एनर्जी ड्रिंक और एल्कोहल का शरीर पर खराब असर पड़ता है

Immunity Boosting Tips: कोरोना वायरस की दूसरी लहर आ चुकी है, महाराष्ट्र, कर्नाटक और दिल्ली जैसी जगहों में दोबारा संक्रमितों की संख्या में बढ़ोतरी होने लगी है। ऐसे में हर कोई चाहता है कि उनकी इम्युनिटी मजबूत रहे, इसके लिए स्वस्थ जीवन शैली का पालन करना जरूरी है। सही खाने से लेकर व्यायाम और अच्छी नींद भी रोग प्रतिरोधक को बेहतर करने में सहायक है।

कोरोना वायरस के इस दौर में मजबूत इम्युनिटी बेहद जरूरी है। रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए लोग तमाम कोशिशें करते हैं। सिर्फ कोविड से बचने में ही नहीं, बल्कि संपूर्ण स्वास्थ्य को बरकरार रखने के लिए इम्युनिटी का स्ट्रॉन्ग होना जरूरी है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञ मानते हैं कि इम्युनिटी को बेहतर करने के लिए डाइट का अच्छा होना भी जरूरी है। कई अध्ययनों के अनुसार ज्यादा कैलोरीज, शुगर, सैच्युरेटेड फैट और अधिक नमक खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता गलत तरीके से प्रभावित होती है। ऐसे में आइए जानते हैं कि डाइट में किन फूड्स को बिल्कुल भी शामिल नहीं करना चाहिए –

सोडा और एल्कोहल: सोडा, जूस, मीठी चाय, एनर्जी ड्रिंक और एल्कोहल का शरीर पर खराब असर पड़ता है। इससे स्ट्रेस हार्मोन कॉर्टिसोल निकलने लगता है, ब्लड शुगर का स्तर अनियमित होता है और इंसुलिन की कार्य प्रणाली भी प्रभावित होती है जिससे इम्युन सिस्टम कमजोर हो जाता है।

कैंडी: इसे खाने से ब्लड शुगर के स्तर में अचानक वृद्धि हो जाती है जिससे कमजोर इम्युनिटी का खतरा बढ़ता है। कैंडी, च्युइंग गम्स और जेली में चीनी की मात्रा ज्यादा होती है। इस कारण शरीर में फ्री रैडिकल्स का उत्पादन होता है जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को कमजोर बनाते हैं।

आलू के चिप्स: इम्युन सिस्टम को बेहतर करने में खाने का योगदान प्रमुख होता है। चिप्स में फैट और ग्रीस की मात्रा अधिक होती है। सिर्फ कमजोर इम्युनिटी ही नहीं, हाई बीपी और कोलेस्ट्रॉल भी चिप्स जैसी तली-भुनी चीजें खाने से हो सकती है।

रेड मीट: इसमें सैच्युरेटेड फैट की मात्रा ज्यादा होती है जो ब्लड में कोलेस्ट्रॉल की अधिकता के कारण बनते हैं। इससे खराब इम्युनिटी के साथ ही हार्ट डिजीज का खतरा भी बढ़ता है।

ब्रेड: सफेद ब्रेड, कुकीज, केक और पेस्ट्रीज जैसे फूड आइटम्स मैदा से बने होते हैं जिनमें कैलोरीज ज्यादा और पोषक तत्व कम पाए जाते हैं। ऐसे में ये रोग प्रतिरोधक क्षमता को नकारात्मक रूप से प्रभावित करते हैं।

आइसक्रीम: इसमें फैट क्रीम होता है जो कि सैच्युरेटेड फैट और शुगर से भरपूर होता है, इससे ब्लड शुगर लेवल तुरंत बढ़ सकता है जो बदले में इम्युनिटी को कमजोर करता है।

कॉफी: कॉफी में उच्च मात्रा में एसिडिक तत्व पाए जाते हैं जो बॉडी में जाकर नुकसान पहुंचा सकते हैं। इससेे अपच, पेट फूलने और दस्त की शिकायत हो जाती है जो इम्युन सिस्टम की क्षमता को प्रभावित करते हैं।

Next Stories
1 यूरिक एसिड कंट्रोल करने में मददगार है त्रिफला, जानें दूसरे आयुर्वेदिक उपाय
2 गर्मियों में कैसी होनी चाहिए डाइट? जानें एक्सपर्ट्स की सलाह
3 कोरोना के 2,790 मामले आए, नौ मरीजों की मौत
क्लब हाउस चैट लीक:
X