ताज़ा खबर
 

High Uric Acid के मरीज हैं तो डाइट में शामिल करें नींबू, हाथ-पैर के सूजन को कर सकता है कम

यूरिक एसिड में नींबू: एक्सपर्ट्स के मुताबिक सुबह खाली पेट एक गिलास गुनगुने पानी में नींबू का रस मिलाकर नियमित रूप से पीना चाहिए

शरीर में मौजूद एक्स्ट्रा यूरिक एसिड को बाहर निकालने में नींबू मददगार साबित हो सकता है

Uric Acid Home Remedies: यूरिक एसिड की अधिकता होने पर किडनी भी सुचारू रूप से फिल्टर करने में सक्षम नहीं रह जाती है। ऐसे में टॉक्सिक मेटीरियल्स शरीर में ही रह जाते हैं। हाई यूरिक एसिड के मरीजों के शरीर के कई अंग इससे प्रभावित हो जाते हैं। बता दें कि ज्यादातर समय, पेशाब के माध्यम से यूरिक एसिड शरीर के बाहर निकल जाता है। लेकिन कुछ स्थिति में जब ये नहीं निकल पाता है तो शरीर में यूरिक एसिड की अधिकता के कारण लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

गठिया रोग, जोड़ों में दर्द, गाउट और सूजन जैसी गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का एक आम कारण यूरिक एसिड का बढ़ना भी माना जाता है। प्यूरीन नामक प्रोटीन की अधिकता के कारण शरीर में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ जाता है। ये प्रोटीन हमारे शरीर में खुद-ब-खुद तो बनते ही हैं, साथ में कुछ फूड आइटम्स में भी मौजूद होते हैं। ऐसे में नींबू का सेवन मरीजों के लिए फायदेमंद हो सकता है।

यूरिक एसिड को करता है डिसॉल्व: शरीर में मौजूद एक्स्ट्रा यूरिक एसिड को बाहर निकालने में नींबू मददगार साबित हो सकता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स भी यूरिक एसिड के मरीजों को अपनी डाइट में विटामिन सी युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करने की सलाह देते हैं। ऐसे में नींबू का सेवन लोगों के लिए लाभदायक हो सकता है। इसके अलावा, नींबू में सिट्रिक एसिड भी प्रचुर मात्रा में मौजूद होता है, ये एसिड यूरिक एसिड को डिसॉल्व होने में मदद करता है।

क्रिस्टल नहीं होने देता फॉर्म: गठिया एक ऐसी बीमारी है जो कि यूरिक एसिड की अधिकता के कारण होती है। इस बीमारी में शरीर के जोड़ों में यूरिक एसिड क्रिस्टल के फॉर्म में जमा हो जाते हैं। ये जोड़ों में सूजन और असहनीय दर्द का कारण बनते हैं। नींबू इस क्रिस्टल को फॉर्म होने से रोकता है और मरीजों को अधिक नुकसान से बचाता है। इसके अलावा, नींबू का इस्तेमाल कैल्शियम कार्बोनेट के फॉर्मेशन पर भी असरदार है।

ऐसे करें इस्तेमाल: एक्सपर्ट्स के मुताबिक सुबह खाली पेट एक गिलास गुनगुने पानी में नींबू का रस मिलाकर नियमित रूप से पीना चाहिए। इससे शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा कम होगी, साथ ही हाथ-पैर में इस बीमारी के कारण होने वाली सूजन से भी राहत मिलेगा। आप दिन भर में 2 बार नींबू-पानी का सेवन कर सकते हैं।

Next Stories
1 Thyroid के मरीजों के लिए रामबाण है हल्दी का इस्तेमाल, जानिये यूज करने का तरीका
2 High BP के मरीज इन 2 फलों को करें डाइट में शामिल, हार्ट प्रॉब्लम्स से रहेंगे दूर
3 Diabetes के मरीजों को किन सब्जियों का करना चाहिए सेवन, जानिये
आज का राशिफल
X