scorecardresearch

Dehydration in winter: सर्दी में कौन से लक्षण बताते हैं कि बॉडी में पानी की कमी हो गई है, एक्सपर्ट से जानिए

how to recognize dehydration: अगर सर्दी में सिर दर्द ज्यादा परेशान कर रहा है तो समझ जाएं कि बॉडी में पानी की कमी है।

Dehydration in winter: सर्दी में कौन से लक्षण बताते हैं कि बॉडी में पानी की कमी हो गई है, एक्सपर्ट से जानिए
सर्दी में पानी की कमी होने से किडनी की परेशानी का खतरा बढ़ सकता है। photo-freepik

Symptoms of dehydration: सर्द मौसम में हमारी खाने-पीने की आदतें बदलने लगती हैं। इस मौसम में हमें प्यास कम लगती है और हम लिक्विड डाइट पर कम ध्यान देते हैं। सर्दी में प्यास कम लगने का मतलब ये नहीं है कि बॉडी को पानी की जरूरत नहीं है। इस मौसम में पानी का कम सेवन बॉडी में डिहाइड्रेशन की परेशानी को बढ़ा देता है। सर्दी में बॉडी में पानी की कमी होने पर बॉडी में कई बीमारियों का खतरा बढ़ने लगता है।

न्यू हैम्पशायर विश्वविद्यालय (University of New Hampshire)के एक अध्ययन में पाया गया कि सर्दी में डिहाइड्रेशन की संभावना (dehydration actually increases)बढ़ जाती है। चूंकि इस मौसम में तापमान गिरने पर लोगों को प्यास नहीं लगती है और लोग पर्याप्त पानी का सेवन करना भूल जाते हैं। हम सर्दी में कम तापमान में मोटे कपड़े (heavier clothes) पहनते हैं जिसकी वजह से शरीर को अधिक मेहनत करनी पड़ती है, और ठंडी, शुष्क हवा में पसीना जल्दी से वाष्पित हो जाता है।

पानी का कम सेवन कब्ज, एसिडिटी की परेशानी को बढ़ा सकता है। इस मौसम में स्किन में ड्राईनेस ज्यादा होती है और स्किन की परेशानी बढ़ने लगती है। पानी की कमी होने से बॉडी में इलेक्ट्रोलाइट का स्तर काफी कम हो जाता है। नूट्रिशनिस्ट नीलाक्षी तनीमा के मुताबिक अक्सर लोगों की धारणा होती है कि बॉडी में डिहाइड्रेशर की परेशानी गर्मी में होती है लेकिन ऐसा नहीं है सर्दी में भी डिहाइड्रेशन की परेशानी होती है। बॉडी में पानी की कमी होने पर बॉडी में उसके लक्षण दिखने लगते हैं। आइए जानते हैं कि सर्दी में बॉडी में पानी की कमी होने पर उनके लक्षणों की पहचान कैसे करें।

स्किन पर ड्राईनेस का अधिक होना: (Dry skin)

सर्दी में बॉडी में पानी की कमी होने पर स्किन में ड्राईनेस अधिक होने लगती है जिससे स्किन में सूखापन और पपड़ी जमने लगती है। कई बार स्किन में ड्राईनेस इतनी ज्यादा बढ़ती है कि स्किन से खून तक निकलने लगता है। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के मुताबिक मामूली डिहाइड्रेशन भी ध्यान केंद्रित करने, याददाश्त को कमजोर करने और मूड को खराब करने में जिम्मेदार है। जो लोग लंबे समय तक कम पानी का सेवन करते हैं सर्दी में उन लोगों को किडनी की बीमारी, किडनी की पथरी और डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारी का खतरा अधिक रहता है।

डार्क रंग का यूरीन आना: (Dark-colored urine)

सर्दी में कम पानी का सेवन करने से यूरीन से संबंधित परेशानियों का खतरा भी अधिक रहता है। सर्दी में अगर आपको पीले रंग का पेशाब आता है तो समझ जाएं कि बॉडी में पानी की कमी हो रही है। सर्दी में अगर आप पानी ज्यादा पीते हैं तो आपको हल्के रंग का पेशाब आएगा और पेशाब में बदबू भी कम होगी।

मुंह का सूखना: (Dry mouth)

अगर सर्दी में आपका मुंह ज्यादा सूख रहा है तो समझ जाए की बॉडी में पानी की कमी है। सूखा मुंह इस बात का सबूत है कि सैलिवेरी ग्लैंड (salivary glands) पर्याप्त मात्रा में स्लाइवा (saliva) का उस्पादन नहीं कर रहा है।

सिर दर्द होना: (Headaches)

डिहाइड्रेशन की वजह से सिरदर्द तब होता है जब मस्तिष्क पानी की कमी की वजह से अस्थायी रूप से सिकुड़ने लगता है, जिससे सिर दर्द होता है। इंडियन जर्नल ऑफ़ मेडिकल रिसर्च के मुताबिक डिहाइड्रेशन सोचने समझने और दिमाग के काम करने की क्षमता को भी प्रभावित करता है। सर्दी में पानी की कमी सिर दर्द का बड़ा कारण बनती है।

पढें हेल्थ (Healthhindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 24-11-2022 at 11:18:45 am
अपडेट