ताज़ा खबर
 

क्या करें जब पांव में आ जाए मोच

सामान्य तौर पर मोच को ठीक होने में लगता है छह से आठ सप्ताह का समय

चलते-चलते अक्सर लोगों के पांव में मोच आ जाती हैं। कई लोगों के साथ तो यह घटना थोड़े-थोड़े दिन के अंतराल पर होती ही रहती है। मगर क्या करें जब अचानक मोच आ जाए। यदि टखने में मोच आ गई है तो राहत पाने के लिए इन तरीकों को अपनाएं…
कैसे करें देखभाल

आराम: तीन दिन तक चोटिल पैर पर वजन न डालें।

बर्फ: दिन में तीन से चार बार 10 से 15 मिनट के लिए बर्फ से सिंकाई करें। इससे सूजन कम करने में मदद मिलेगी। बर्फ मिले पानी में पैर रखने से भी आराम मिलता है।

दबाव: सपोर्ट बैंडेज या पट्टी लगाना भी सूजन को कम करता है। टखने को सपोर्ट करने और दबाव डालने के लिए खास एंकल गार्ड्स भी आते हैं।

पैरों को ऊंचा रखें: बैठते और लेटते वक्त पैर के नीचे कुछ रखें, जिससे टखने के हिस्से की ऊंचाई घुटने से अधिक रहे। इससे सूजन में कमी आएगी।

तीन दिन के आराम के बाद टखने को गति देने का काम करें। शुरुआत धीरे चलने से करें। जरूरत हो तो स्टिक का इस्तेमाल करें। अपने दर्द को नजरअंदाज न करें, साथ ही चोटिल पैर पर दबाव डालने से बचें। यदि दर्द बढ़
रहा है और सूजन कम नहीं हो रही तो चिकित्सक से अवश्य सलाह करें। जरूरत पड़ने पर एक्स रे और एमआरआई भी करवाना पड़ सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App