ताज़ा खबर
 

ऐसे रोगों को दूर सकती है मिट्टी, जान लें इस्तेमाल का सही तरीका

आपको जानकर हैरानी होगी कि मिट्टी में कई रोगों का इलाज छुपा हुआ है। अगर आप इसका इस्तेमाल सही तरीके से करें तो स्किन से लेकर आंखों तक यह कई समस्याओं का समाधान है।

Author नई दिल्ली | November 20, 2018 2:02 PM
प्रतिकात्मक चित्र।

हम में से हर कोई किसी ना किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना आए दिन करता ही रहता है। ऐसे में हम हर समस्या के लिए डॉक्टर के पास नहीं जा पाते हैं या दवाईयां खाने से कतराते हैं। त्वचा से जुड़ी समस्या हों या तनाव और सिर दर्द, ये सभी आम हैं। तो क्यों ना आप इन समस्याओं के समाधान के लिए मिट्टी का इस्तेमाल करें। जी हां, हम सही कह रहे हैं। मिट्टी में कई रोगों का इलाज छुपा हुआ है। इसे ‘मड थेरेपी’ कहते हैं। अगर आप इसका सही तरीका जान लें तो आप भी इसका लाभ उठा सकते हैं। आइए जानते हैं मड थेरेपी के फायदे और तरीका।

मड थेरेपी के लाभ:

1. मिट्टी के इस्तेमाल से आप ताज़ा, उत्साहजनक और आरामदायक महसूस करते हैं।
2. घावों और त्वचा के रोगों के लिए, मिट्टी का उपयोग फायदेमंद समाधान है।
3. मड थेरेपी का उपयोग शरीर को ठंडा करने के लिए किया जाता है।
4. यह शरीर से विषैले पदार्थों को निकालकर शरीर को साफ करने में मदद करता है।
5. कब्ज, सिरदर्द, तनाव, उच्च रक्तचाप, त्वचा से जुड़े रोग आदि विभिन्न समस्याों में मिट्टी को सफलतापूर्वक प्रयोग किया जाता है।
6. कब्ज से छुटकारा पाने के लिए मड पैक लगा सकते हैं।
7. पेट पर मड पैक लगाकर आप अपाचन और कब्ज की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।
8. आँखों के ऊपर मड पैक लगाकर आई इरिटेशन और आँखों के दर्द से निजात मिलती है।

इस्तेमाल करने का तरीका: आप मड थेरेपी के लिए दो तरीके अपना सकते हैं जिनमें से एक है मड बाथ और दूसरा मड पैक।

मड बाथ-
मड बाथ के लिए एक बड़े बर्तन में साफ मिट्टी में पानी मिला लें और इसे भीगने दें। इसे रोगी के शरीर पर अप्लाई करें। 40-60 मिनट के बाद शरीर को साफ पानी से धो लें।

मड पैक-
चेहरे के लिए आप मड पैक विकल्प का इस्तेमाल कर सकते हैं। एक कटोरे में थोड़ी सी साफ मिट्टी लेकर इसमें पानी मिला लें। इस पैक को चेहरे पर 20-30 मिनट के लिए लगाएं। त्वचा से जुड़ी समस्याओं के लिए यह कारगर है।

इस्तेमाल से पहले मिट्टी को सुखा ले और इसक पाउडर बना लें। इससे पत्थर, घास के कण और अन्य अशुद्धियों को अलग कर लें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App