ताज़ा खबर
 

ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए किचन के ये मसाले माने जाते हैं रामबाण, जानिए इस्तेमाल का तरीका

ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ने से डायबिटीज की बीमारी हो सकती है। ऐसे में यह बहुत जरूरी है कि ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए अपनी डाइट में सुधार करने के साथ ही ऐसे उपायों का सहारा भी लिया जाए जिनसे ब्लड शुगर कंट्रोल की जा सके।

spices, diabetes, blood sugarब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए मसालों का इस्तेमाल किया जा सकता है।

Spices to Control Blood Sugar: ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ने से डायबिटीज की बीमारी हो सकती है। ऐसे में यह बहुत जरूरी है कि ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए अपनी डाइट में सुधार करने के साथ ही ऐसे उपायों का सहारा भी लिया जाए जिनसे ब्लड शुगर कंट्रोल की जा सके। ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए घरेलू उपायों में किचन के मसालों को बहुत कारगर माना जाता है। कहते हैं कि कुछ खास मसालों का सेवन करने से ब्लड में शुगर की मात्रा कंट्रोल की जा सकती है।

मेथी दाना और कसूरी मेथी – मेथी एक कड़वा मसाला है। बताया जाता है कि इसके सेवन से ब्लड शुगर की मात्रा कंट्रोल की जा सकती है। रोजाना आधा चम्मच मेथी दाना एक गिलास पानी में भिगोकर 12 घंटे के लिए रख दें। फिर 12 घंटे बाद इस पानी को छानकर खाली पेट पीएं। बताया जाता है कि दिन में दो बार मेथी दाना के पानी का सेवन करने से जल्द राहत मिल सकती है।

कसूरी मेथी में भी मेथी दाना के ही गुण होते हैं। आप इसे सब्जियों और दालों में डालकर खा सकते हैं। 100 ग्राम कसूरी मेथी को मिक्सी में ग्राइंड कर उसका पाउडर बना लें। फिर इस पाउडर को रोज खाली पेट गुनगुने पानी के साथ खाएं। इस उपाय को लगातार दो से तीन हफ्ते अपनाने से फायदा दिखना शुरू हो जाता है।

अजवायन – अजवायन एक बहुत गुणकारी मसाला है। यह सिर्फ गैस, कब्ज और उल्टी में ही नहीं बल्कि ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए भी लाभकारी माना जाता है। कहते हैं कि अजवायन के रोजाना सेवन से व्यक्ति निरोगी बना रह सकता है। इसका सेवन सब्जियों और दालों में डालकर किया जा सकता है। साथ ही इसे 12 घंटे के लिए एक गिलास पानी में भिगोकर एक पतीले में डालकर 15 से 20 मिनट के लिए उबालें। फिर इसे चाय की तरह गुनगुना पीएं। इस उपाय से जल्द फायदा मिल सकता है।

काली मिर्च – काली मिर्च को ब्लड प्योरिफायर के रूप में लाभदायक मसाला माना जाता है। कहते हैं कि इसका रोजाना सेवन करने से ब्लड से अपशिष्ट निकल सकते हैं। ब्लड से शुगर की मात्रा कम करने के लिए इसे दाल-सब्जियों में डालकर खाएं। साथ ही कोशिश करें कि इसका काढ़ा बनाकर पीएं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 यूरिक एसिड बढ़ने से हो सकती है पथरी, जानें कैसे करें बचाव
2 ठंड के मौसम में Diabetes के मरीज इन 5 चीजों को करें डाइट में शामिल, मिल सकता है लाभ
3 युवाओं में बढ़ रहा फैटी लिवर का खतरा, जानें- क्यों होती है ये बीमारी और कैसे करें बचाव
ये पढ़ा क्या?
X